गाय भैंस लोन योजना पंजीयन 2022, पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना

हरियाणा राज्य मे लागू हुई इस योजना के तहत राज्य के पशुपालकों को ऋण दिया जाएगा। इस योजना के तहत उन सभी पशुपालकों को ऋण दिया जाएगा जिनके पास खुद की भेस और गाय है। ऐसे किसान और राज्य के नागरिक जो पशुपालन करते है और उनसे से ही अपना घर और रोजगार चलाते है, ऐसे लोगो को आर्थिक मदद देने के उद्देश्य से इस योजना को लागू किया गया है। यहाँ आप गाय भैंस लोन योजना पंजीयन 2022 की पूरी डिटेल पढ़ सकते हैं। 

पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना 2022 (गाय भैंस लोन योजना)

पशु किसान क्रेडिट कार्ड या गाय भैंस लोन योजना के तहत हरियाणा राज्य के पशुपालक किसानों को 3 लाख तक का लोन लेने का मौका दिया जा रहा है। इस लोन पर किसानों को लगभग 4 प्रतिशत तक का ब्याज देना होगा। 

गाय भैंस लोन योजना पंजीयन 2022

आपको बतादें कि इस योजना के तहत आवेदन करने वाले लाभार्थियों को 40 से 60 हजार और अधिकतम 3 लाख तक का लोन मिल सकता है। जिससे वे अपने पशुपालन स्वरोजगार को और बढ़ा सकते हैं। 

इसे पढ़ें – प्रधानमंत्री लोन योजना ऑनलाइन फॉर्म 2022

गाय भैंस लोन योजना पंजीयन के उद्देश्य –

हरियाणा राज्य मे लागू की गई इस योजना के तहत आवेदन करने लाभार्थी को अधिकतम 3 लाख तक का लोन दिया जाएगा। इसमे अगर किसी पशुपालक के पास गाय है तो उन्हें 40 हजार व इसके अलावा अगर कोई भैंस है तो 60 हजार रुपये तक का लोन मिल सकता है। इस लोन के तहत मिलने वाली राशि को वापस 6 बराबर किश्तों मे चुकाना होगा। 

योजना का उद्देश्य है किसानों की आमदनी व दुग्ध उत्पादन को बढ़ाना जिससे आर्थिक व सामाजिक रूप से राज्य का विकास संभव हो सके।

गाय भैंस लोन योजना पंजीयन कैसे करें, जाने –

योजना के तहत आवेदन करने के लिए इस प्रोसेस को फॉलो किया जा सकता है। इस योजना के लिए आवेदन की प्रकिया ऑफलाइन है। 

  1. सबसे पहले जिस पशु पर लोन लेना है तो उसका पशु क्रेडिट कार्ड बनवाना होता है। इस कार्ड को सम्बंधित कार्यालय से बनवाया जा सकता है। 
  2. इसके बाद उस कार्ड को लेकर बैंक मे जाना होता है। इसके अलावा उस कार्ड पर सम्बंधित दस्तावेज भी लगाने होते है। 
  3. इसके बाद बैंक से लोन का फॉर्म दिया जाता है उसे भर के और उसके साथ सम्बंधित दस्तावेज लगाकर जमा करवाना होता है। 

इसे पढ़ें – बजाज फाइनेंस बाइक लोन स्कीम, ऐसे लें अपनी ड्रीम बाइक EMI पर

पशु किसान क्रेडिट योजना की ब्याज दरें –

राज्य मे लागू होने वाली इस योजना के तहत मिलने वाली राशि पर 4 प्रतिशत तक का ब्याज देना होगा। इसके अलावा इसमे 6 सामान किश्तों मे लोन चुकाना होगा। इसके साथ इसमे दी जाने वाली ब्याज दर मे चुकाना होगा। 

इसके अलावा इसमे लोन मे मिलने वाली राशि पर 3 प्रतिशत तक सरकार द्वारा सब्सिडी दी जायेगी। इस तरह के लोन पर बैंक आमतौर पर 7 प्रतिशत तक का लोन लेती है परन्तु इसमे 4 प्रतिशत तक की ब्याज की दर किसान को देनी होगी और उसके अलावा 3 प्रतिशत ब्याज दर सरकार सब्सिडी के तौर पर दी जायेगी। 

पशु किसान क्रेडिट योजना के तहत 53 हजार लाभार्थी को मिलेगा लाभ –

पशु किसान क्रेडिट योजना के तहत राज्य के तक़रीबन 53 हजार से अधिक पशुपालकों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा। इसके लिए हरियाणा की राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। पशुपालकों की जिंदगी को बेहतर बनाने के लिए हरियाणा की राज्य सरकार ने तक़रीबन 700 करोड़ का बजट जारी किया है।

योजना के तहत मिलने वाली राशि पर पशुपालक को 4 प्रतिशत तक की ब्याज दर चुकानी होती है। इन सभी लोन को राज्य के लगभग 53 हजार लोगो मे बांटा जाएगा। इस लोन को लेने के लिए आवेदक के पास कुछ जरुरी दस्तावेज और पात्रता होनी चाहिए। इसके बाद ही इस योजना का लिए आवेदन करना होता है। इसके बाद इस योजना के लाभ लिया जा सकता है।  

इसे पढ़ें – महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन का विकल्प, कहाँ से मिलेगा तुरंत लोन

गाय भैंस लोन योजना के तहत मिलने वाली राशि –

इस लोन योजना के तहत मिलने वाली राशि के बारे मे जानकारी इस प्रकार है। इसमे लोन पर मिलने वाली राशि जानवर के आधार पर मिलती है की आपके पास किस तरह का जानवर है। 

  • गाय – गाय अगर किसी पशुपालक के पास है और वो इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो वो इस योजना के तहत 40738 रूपये दिए जायेंगे।
  • भैंस – भैस अगर किसी पशुपालक के पास है और वो इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो वो इस योजना के तहत 60249 रूपये दिए जायेंगे।
  • भेड़ बकरी – भेड़ बकरी अगर किसी पशुपालक के पास है और वो इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो वो इस योजना के तहत 4063 रूपये दिए जायेंगे।
  • मुर्गी – अंडे देने वाली मुर्गी अगर किसी पशुपालक के पास है और वो इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो वो इस योजना के तहत 720 रूपये दिए जायेंगे।

इसे पढ़ें – 10000 का लोन कैसे मिलेगा, प्रधानमंत्री लोन योजना ऑनलाइन फॉर्म

गाय भैंस लोन योजना पंजीयन के मुख्य बिंदु –

कई बार ऐसा देखना गया है की गाँवों और पशुपालन करने वाले पशुपालक पैसो की कमी के कारण या पशुओं पर होने वाली बीमारी के कारण अपने पशुओं को बेच देते है। यह एक बहुत ही बड़ी समस्या है और इसी समस्या को रोकने के लिए ही इस योजना को लागू किया गया है ताकि राज्य के पशुपालक पैसों की कमी के कारण या और किसी कमी के कारण अपने पशु नहीं बेचे। 

इसके साथ ही किसानों और पशुपालकों को इस योजना के तहत आर्थिक लाभ दिया जाएगा। इस आर्थिक लाभ की मदद से वे अपने काम को आगे बढ़ा सकते है। इसके साथ ही इस लोन की राशि से अपने व्यापार को बढ़ा सकते हैं।  

पशु किसान क्रेडिट योजना के लिए दस्तावेज और पात्रता –

  • आवेदक हरियाणा राज्य का मूल निवासी होना चाहिए और इसका मूल निवास प्रमाण पत्र भी जरुरी है। 
  • इसके अलावा पशुओं का स्वास्थ्य प्रमाण पत्र।
  • इसके अलावा जिन पशुओं का बीमा हो रखा है उसी पशुओं पर लोन दिया जाएगा। 
  • लोन लेने वाले आवेदक की सिबिल ठीक होनी चाहिए।
  • लोन लेने वाले का आधार कार्ड, पेन कार्ड और वोटर आईडी।
  • नवीनतम फोटो, आदि।

इसे पढ़ें – ग्रामीण बैंक होम लोन इंटरेस्ट रेट, देखें ब्याज दर लिस्ट 2022

Leave a Comment