बिहार राज्य में फसल सहायता योजना का पैसा कब तक आएगा?

बिहार में किसानों को आर्थिक लाभ देने और उनके फसलों को सुरक्षित रखने हेतु सरकार द्वारा कई तरह की योजनायें चलाई जाती है। कई बार ऐसा भी होता है की अतिवृष्टि और ओलावृष्टि या अन्य प्राकृतिक आपदा के कारण फसलों को भारी नुकसान होता है। जिसके कारण किसान कई बार गलत कदम उठा लेते है। ऐसे में उन किसानों को फसलों से होने वाले नुकसान की भरपाई करने के लिए फसल सहायता योजना के बीमा के माध्यम से आर्थिक लाभ दिया जाता है। इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि बिहार राज्य में फसल सहायता योजना का पैसा कब तक आएगा? तो पूरी जानकारी के लिए हमारे साथ बने रहिये –

बिहार राज्य में फसल सहायता योजना 

बिहार में चलाई जाने वाली फसल सहायता योजना का संचालन राज्य सरकार द्वारा किया जा रहा है। अगर किसी किसान की फसलों का नुकसान प्राकृतिक आपदा जैसे अतिवृष्टि और ओलावृष्टि या किसी अन्य आपदा से होता है तो ऐसे किसानों को नुक्सान से बचाने के लिए सरकार द्वार बीमा के तहत लाभ दिया जाएगा। 

इस योजना के तहत अगर कोई किसान फसलों की बहाई के समय ऐसा बीमा करवाके रखते है तो ऐसे किसानो को सरकार द्वारा या सम्बंधित फर्म द्वारा इसका लाभ दिया जाएगा और फसलों के नुकसान का पूरा पैसा मिलेगा। 

ये भी जाने – बिहार राशन कार्ड ऑनलाइन 1 मिनट में कैसे खोजें?

योजना का नाम बिहार राज्य में फसल सहायता योजना
राज्य  बिहार राज्य 
सहायता राशि 7 हजार से 10 हजार तक प्रति हेक्टर
सम्बंधित विभाग सहकारिता विभाग
योजना के लाभार्थी बिहार के किसान

बिहार राज्य में फसल सहायता योजना का पैसा कब तक आएगा?

फसल बीमा योजना का पैसा आने में थोडा सा समय लगता है। यह इसलिए की इसमें थोडा सा प्रोसेस है। अगर किसी किसान की फसल प्राकृतिक आपदा से बर्बाद हो जाती है तो उसके बाद किसानों को ऑनलाइन आवेदन करना होता है। 

आवेदन करने के बाद इसमें किसानों की फसल और प्राकृतिक आपदा की जांच सम्बंधित पटवारी और अधिकारी द्वारा उसकी जांच होती है। उसके बाद अगर सब जानकारी सही पाई जाती है तो उस किसान को उस फसल का लाभ दे दिया जाता है। 

यह पैसा सीधा उसके खाते में भेज दिया जाता है। यह पैसा सीधा किसान के खाते में आता है। इसके लिए उसे किसी भी तरह से अधिकारीयों के और ऑफिस के चक्कर काटने की जरूरत नही है। 

ये भी जाने – मुख्यमंत्री वृद्धा पेंशन योजना बिहार लिस्ट कैसे चेक करें?

बिहार फसल बीमा योजना के उद्देश्य –

  • बिहार राज्य में को फसलों से होने वाले नुकसान से बचाना। 
  • योजना के सरकार का मुख्य उद्देश्य किसानों का बीमा कवर करवाना है। 

बिहार फसल बीमा योजना में आवेदन कैसे करें?

बिहार फसल बीमा योजना में आवेदन करने के लिए आपको इस प्रोसेस को फॉलो करना होता है। इस योजना पर आवेदन करने हेतु सही समय ऑफिस में समय यानी सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक ही रहता है। 

  • सबसे पहले योजना की इस वेबसाइट पर आना होता है।
  • इसके बाद इस वेबसाइट पर एक आप्शन Register के नाम से मिलता है, उसमे आपको रजिस्टर करना होता है।
  • अब इसमें आपको अपनी किसान निबंधन संख्या डालनी होती है और अपनी डिटेल को सर्च करना होता है। इसके बाद आपकी पूरी जानकारी खुल जाती है। इसके बाद इसमें आपको अपना मोबाइल नंबर से रजिस्टर करना होता है। 
  • रजिस्टर करने के बाद इसमें आपको लॉग इन करना होता है जिसमे अपनी आईडी और पासवर्ड डालना होता है। 
  • लॉग इन करने के बाद इसमें आवेदन करना होता है और अपनी पूरी डिटेल इसमें डालनी होती है। 

ये भी जाने – इंदिरा आवास सूची बिहार 2022 कैसे देखें?

फसल सहायता योजना आवेदन हेतु जरुरी दस्तावेज –

  • किसान का आधार कार्ड या आवेदन करने वाले का आधार कार्ड 
  • आवेदन करने वाले का वोटर आईडी कार्ड 
  • राशन कार्ड, उस किसान का जो आवेदन कर रहा है 
  • खेत से जुड़े दस्तावेज
  • बैंक की पासबुक या बैंक के दस्तावेज
  • फसल खराब होने सा सम्बंधित दस्तावेज और शपथ पत्र 
  • मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी

फसल सहायता योजना हेतु पात्रता –

  • आवेदक बिहार का मूल निवासी होना चाहिए। 
  • इसके अलावा ऐसा किसान जिसके पास खेती के अलावा कोई और आया का स्त्रोत न हो। 
  • आवेदक का बैंक खाता होना जरुरी है। 
  • खेत की जमाबंदी या दस्तावेज जरुरी है। 
  • इस योजना का लाभ केवल उन्हें ही दिया जाएगा जिनकी फसल प्राकृतिक आपदा से ख़राब हुई हो। 

फसल के नुकसान पर कितना लाभ दिया जाएगा –

अगर किसी किसान के खेत की फसल कुल फसल के 20 प्रतिशत के कम ख़राब हुई है तो उस स्तिथि में उसे 7 हजार रूपये प्रति हेक्टर दिए जायेंगे वही अगर यह नुकसान 20 प्रतिशत से आधिक है तो उसे 10 हजार प्रति हेक्टर दिए जायेंगे। 

अन्य ब्लॉग पोस्ट पढ़ें –

 

Leave a Comment