बिजनेस लोन प्रोजेक्ट कैसे बनाए, जिससे लोन मिले आसानी से

किसी भी बिजनेस से लाभ कमाने के लिए हर उद्यमी के पास एक कार्य योजना होती है। जिसके आधार पर व्यापार में पैसों का निवेश किया जाता है। हालाँकि जब कोई नया उद्यमी जिसने अभी अपना बिजनेस शुरू भी नहीं किया, अगर उसे बैंक से लोन चाहिए तो उसे बिजनेस लोन प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करना होता है। क्योंकि किसी भी बिजनेस लोन को पाने के लिए हमे अपने बिजनेस के बारे में अच्छे से बताना होता है ताकि बैंक या वित्तीय संस्थान हम पर विश्वास कर सके। 

आज के इस आर्टिकल में जानेंगे कि बिज़नस लोन लेने से पहले हमे किस प्रकार पूरी फाइल तैयार करनी चाहिए जिसमे हम कम शब्दों में यह समझा सके कि हमारा बिज़नस की तरह से काम करता है और हमारा बिज़नस का मॉडल क्या है यानी हमारा बिज़नस पैसे कैसे कमाता है? 

बिजनेस लोन प्रोजेक्ट क्या होता है, कैसे बनाये?

किसी भी बिजनेस के वर्किंग प्लान व प्रॉफिट मेकिंग स्ट्रेटिजी को एक प्रोजेक्ट फाइल के रूप में प्रेजेंट करना ही बिजनेस प्रोजेक्ट होता है। बिज़नस प्रोजेक्ट में मुख्य रूप से वे टर्म्स आते है जिनसे आपके बिजनेस या रोजगार के बारे में सारी तथ्यात्मक बातें बताई गयी होती हैं। जैसे आपका बिज़नस किस तरह का है, बिज़नस कैसे काम करता है, बिज़नस में कितने लोग है, बिज़नस पैसे कैसे कमाता है? इत्यादि।  

बिजनेस लोन प्रोजेक्ट कैसे बनाए

अगर आपने अपने नौकरी के लिए या किसी सरकारी नौकरी में आवेदन करने के लिए रिज्यूमे बनाया है तो आप इस कांसेप्ट को काफी आसानी से समझ सकते है। किसी भी बिज़नस लोन को लेने के लिए हमे उस बैंक के सामने सबसे पहले हमारे बिज़नस के बारे में बताना होता है।

इसे पढ़ें – महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन का विकल्प, कहाँ से मिलेगा तुरंत लोन

समझें बिजनेस प्रोजेक्ट बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाले इन टर्म्स को –

सामान्य परिचय – 

प्रोजेक्ट की शुरुआत में ही आपको अपने बिज़नस के बारे में थोडा सा परिचय देना होता है यानी आपके बिज़नस के बारे में प्रोजेक्ट की सहायता से बताना होता है। आपका बिज़नस की तरह का है और किस श्रेणी का बिज़नस है। 

बिज़नस की लोकेशन – 

परिचय के बाद उस बिज़नस की लोकेशन के बारे में भी बिज़नस लोन प्रोजेक्ट में बताना होता है। आपका बिज़नस किस शहर और किस जगह पर है। बिज़नस के लिए उस बिज़नस की लोकेशन सबसे अहम रोल निभाती है।

फाइनेंस डिटेल – 

इस सेक्शन में आपको अपने बिज़नस की वित्तीय स्तिथि के बारे में लिखना जरुरी है। आपका बिज़नस कब शुरू हुआ और तब से यह कितना कम चुका है और उसके अलावा आपका बिज़नस वर्तमान में कितनी कमाई करता है। इन सब के बारे में इस सेक्शन में लिखना होता है। इस सेक्शन का महत्त्व सबसे ज्यादा है इसलिए इसमें पूरी और विस्तृत जानकारी लिखे ताकि बैंक आपके बिज़नस का रेवेन्यु को आसानी से समझ सके। 

इसे पढ़ें – ग्रामीण बैंक होम लोन इंटरेस्ट रेट, देखें ब्याज दर लिस्ट 2022

बिजनेस प्रोजेक्ट रिपोर्ट में ये चीजें भी करें साझा –

कंपनी के अस्सेस्ट्स और लायबिलिटी – 

कंपनी के पास खुद के कितने अस्सेस्ट्स है और कितनी लायबिलिटी है। कंपनी के पास खुद की प्रॉपर्टी कितनी है और किराये की कितनी है। 

पहले से लोन कितना है – 

अगर आपने आपके बिज़नस के लिए पहले से किसी से लोन लिया है तो उसके बारे में भी विस्तार से इसमें बताना होता है। पहले से कहा से और कित्न्ने प्रतिशत पर कितना लोन लिया है उसके बारे में विस्तृत बताना जरुरी है। यह इसलिए जरुरी है ताकि भविष्य में आपको कोई वित्तीय समस्या का सामना नहीं करना पड़े। 

बिज़नस का स्कोप – 

आप जिस बिज़नस पर लोन लेने का सोच रहे है वो बिज़नस भविष्य में कितना ग्रो करेगा और उस बुसिनेस पर कितना स्कोप है। उसके बारे में भी विस्तार से इसमें बताना होता है। आने वाले 1 साल में और 2 साल में या उससे अधिक सालों में आपका बिज़नस किस स्तर पर होगा। इन सब के बारे में भी विस्तृत से बताना जरुरी है। 

मार्किट पोटेंशियल

इसके अलावा आपके बिज़नस का मार्किट पोटेंशियल कितना है। यह भी अगर आप बताते है तो इससे भी बिज़नस लोन प्रोजेक्ट में काफी इफ़ेक्ट पड़ता है। मार्किट पोटेंशियल किसिस भी बिज़नस के लिए जरुरी है। 

केश फ्लो स्टेटमेंट – काश फ्लो स्टेटमेंट के बारे में भी बिज़नस लोन प्रोजेक्ट में बताना एक अच्छी बात होती है। काश फ्लो से आपके बिज़नस की ग्रोथ कितनी है, उसके बारे में इसमें पता चलता है।

इसे पढ़ें – बिहार सरकार लोन योजना 2022, 5 लाख तक ब्याज मुक्त लोन, 50% सब्सिडी

बिजनेस लोन प्रोजेक्ट बनाना क्यों जरुरी है?

बिज़नस लोन प्रोजेक्ट बनाने के कई फायदे है जो आपके बिज़नस के बारे में बताने में मदद करते है। 

  • बिज़नस लोन प्रोजेक्ट बनाने से आपके बिज़नस की पूरी जानकारी एक संक्षिप्त पेज और एक संक्षिप्त फाइल में आ जाती है। 
  • business की पूरी जानकारी को आसानी से समझने में आसानी होती है। 
  • बिज़नस के बारे में जानना और समझना भी काफी आसान हो जाता है। 
  • बैंक और किसी भी वित्तीय संस्थान से लोन लेने में भी यह काफी फायदेमंद होता है। 
  • बिज़नस के बारे में समझना और किसी भी बिज़नस के बिज़नस मॉडल को समझने के लिए भी यह एक आवश्यक रोल निभाता है। 
  • किसी भी बैंक से लोन लेने में भी यह काफी काम में आता है। 

बैंक लोन के लिए बिजनेस प्रोजेक्ट के साथ रखें इन डाक्यूमेंट्स को –

बैलेंस शीट – 

आप जिस बिज़नस पर लोन लेना चाहते है, उस बिज़नस की बैलेंस शीट भी बिज़नस लोन प्रोजेक्ट के साथ लगाना जरुरी है। 

आय – व्यय ब्यौरा – 

बिज़नस में कितनी आय – व्यय होती है उसके बारे में भी और उसके दस्तावेज या आय – व्यय का ब्यौरा भी इस फाइल के साथ लगाना जरुरी है। 

पूर्व में लिए गये लोन की जानकारी – अगर आपने अपने बिज़नस के लिए पहले से लोन लिया है तो उसके बारे में भी जानकारी और उससे सम्बंधित दस्तावेज लगान भी जरुरी है। 

इसे पढ़ें – नहीं पता मुद्रा लोन कैसे पाए, ये 4 स्टेप दिलाएंगे आपको 10 लाख तक लोन

2 thoughts on “बिजनेस लोन प्रोजेक्ट कैसे बनाए, जिससे लोन मिले आसानी से”

Leave a Comment