MP डिजिटल ग्रामीण सेवा केंद्र कैसे खोलें? जाने रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 2022

मध्य प्रदेश में महात्मा गाँधी ग्रामीण सेवा केंद्र योजना के अंतर्गत, डिजिटल ग्रामीण सेवा केंद्र खोलने का रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन किया जा सकता है। यह योजना डिजिटल इंडिया मिशन और CSC सुविधाओं के माध्यमों से न सिर्फ ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को ऑनलाइन सेवाएं दे रही है बल्कि बड़ी संख्या में युवा स्वरोजगार को भी बढ़ावा दे रही है। कंप्यूटर व इन्टरनेट का बेसिक ज्ञान रखने वाले युवा इस लेख में बताये गए निर्देशों के अनुसार अपने गाँव या कस्बे में डिजिटल ग्रामीण सेवा केंद्र का रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं –

डिजिटल ग्रामीण सेवा केंद्र योजना मध्य प्रदेश (Gov2egov) –

महात्मा गाँधी ग्रामसेवा केंद्र परियोजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र के युवा जन सुविधा केंद्र यानी CSC सेण्टर खोल सकते हैं। इस परियोजना के तहत खोले जाने वाले जन सेवा केन्द्र पर Mini Banking Services, Education Services, G2S और B2B Services उपलब्ध होती हैं।

इन ग्रामीण सेवा केन्द्रों पर मोदी सरकार, मध्यप्रदेश सरकार और कई तरह की प्राइवेट सुविधाओं का लाभ बेहद कम शुल्क में किया जा सकता है। मोदी सरकार के Digital India Mission और Common Service Center योजनाओं से सरकार और नागरिकों के बीच पारदर्शिता और सुलभता बढ़ी है। वहीं CSC के माध्यम से अब तक मध्यप्रदेश के 22 हजार से जादा युवाओं को रोजगार मिल चुका है।

इसे पढ़ें – CSC Center कैसे खोलें? जाने

योजना का नाम  महात्मा गाँधी ग्रामसेवा केंद्र परियोजना 
किसने शुरू किया  मध्यप्रदेश सरकार 
मंत्रालय का नाम  पंचायत एवं ग्रामीण विभाग 
राज्य  मध्यप्रदेश 
उद्देश्य  युवा स्वरोजगार बढ़ाने के साथ साथ आम जनता तक सभी सरकारी योजनाओं का लाभ पहुँचाना। 

कैसे करें डिजिटल ग्रामीण सेवा केंद्र का रजिस्ट्रेशन –

  1. सबसे पहले MG-GSK स्कीम की वेबसाइट mp.gov2egov.com खोलें
  2. अब मेनू बार के REGISTER बटन पर क्लिक करें
  3. रजिस्ट्रेशन फॉर्म में नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल, पढाई व पद भरें
  4. इसके बाद रिज्यूमे फाइल अपलोड करके Register बटन क्लिक करें
  5. सफलतापूर्वक पंजीकरण के बाद आपको user id और passwords मिल जायेगा।
  6. इसके बाद login करके पूरा रजिस्ट्रेशन कम्पलीट करलें

इसे पढ़ें – पीएमईजीपी ऋण मंजूरी की प्रक्रिया देखें

महात्मा गांधी ग्रामीण सेवा केंद्र के मुख्य उद्देश्य –

  • सभी सरकारी या प्राइवेट ऑनलाइन सुविधाओं का लाभ ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुँचाना।
  • आम नागरिकों और राज्य सरकार के बीच पारदर्शिता लाना।
  • डिजिटल इंडिया मिशन को बढ़ावा देना।
  • युवाओं को स्वरोजगार और आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रेरित करना।
  • आत्मनिर्भर भारत अभियान को गति प्रदान करना।

Gov2egov (MG GSK MP) की सेवाएं –

  • बैंकिंग सुविधाएँ
  • बीमा सेवाएं
  • Online Pension Schemes
  • Money transfers
  • आय, जाति, निवास और पैन कार्ड बनाना
  • Election Services
  • आयुष्मान भारत योजना की सुविधाएँ
  • केंद्र व राज्य की सभी योजनाओं की सेवाएं
  • सरकारी नौकरी के ऑनलाइन आवेदन
  • कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर
  • PMG Disha
  • रेलवे टिकट
  • बस टिकट बुकिंग
  • मोबाइल या DTH रिचार्ज
  • ऑनलाइन शोपिंग  आदि

इसे पढ़ें – नए उद्यमियों के लिए MSME योजनायें

MG-GSK परियोजना के तहत चुने जाने वाले युवा, ग्राम पंचायत में हुए दैनिक कार्यों को पोर्टल पर अंकित करने में सहायता कर सकते हैं। इसके लिए वे अपनी सुविधा के अनुसार शुल्क भी ले सकते हैं। 

डिजिटल ग्रामीण सेवा केंद्र रजिस्ट्रेशन से पहले जाने इन जरुरी बातों को –

महात्मा गाँधी ग्रामसेवा केंद्र खोलने की पात्रता –

  • आवेदक मध्यप्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए
  • आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए
  • कंप्यूटर की जानकारी होनी चाहिए
  • न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 10 वीं पास होनी चाहिए
  • पुलिस वेरिफिकेशन पास होना चाहिए
  • टाइपिंग, डाटा एंट्री और इन्टरनेट का ज्ञान होना चाहिए

MG-GSK CSC आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज –

  • शैक्षणिक प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड या अन्य कोई फोटो पहचान पत्र
  • पैन कार्ड
  • बैंक खाता और पासबुक
  • कार्य अनुभव और शैक्षणिक योग्यता का बायो डेटा (CV)
  • पुलिस वेरिफिकेशन प्रमाण पत्र

इसे पढ़ें – लोन चाहिए अर्जेंट तो क्या करें?

Mahatma Gandhi Gramin Seva Kendra Online Apply Process in Detail

महात्मा गाँधी ग्रामीण सेवा केंद्र के लिए ऑनलाइन पजीकरण के लिए सबसे पहले योजना की अधिकारिक वेबसाइट (mp.gov2egov.com)पर जाना होगा। वेबसाइट के होम पेज पर Menu बार में दिख रहे REGISTER बटन पर क्लिक करें –

mahatma gandhi gramin seva kendra

इसके बाद आपके सामने User Registration का फॉर्म खुल जायेगा। जिसे आपको सावधानी पूर्वक भरना होगा। यहाँ आपको अपना नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, शैक्षणिक योग्यता और Position आप्शन में Village Level Entrepreneur सेलेक्ट करना है। उसके बाद अपने जिले, ब्लाक और लोकेशन भरना होगा।

mahatma-gandhi-gramin-seva-kendra

यूजर रजिस्ट्रेशन के दौरान आपको CV भी अपलोड करना होगा। इसके बाद Register बटन पर क्लिक करें। सफलतापूर्वक पंजीकरण के बाद आपको user id और passwords मिल जायेगा।

अब आपको होम पेज पर आ कर लॉग इन करना है। और पूरा आवेदन फॉर्म फिल करना है। जिसके बाद आपका आवेदन, वेरिफिकेशन के लिए चला जायेगा। सफलता पूर्वक वेरिफिकेशन के बाद आपको महात्मा गाँधी ग्रामीण सेवा केंद्र खोलने की अनुमति मिल जाएगी।

इसे पढ़ें – 20000 का लोन चाहिए, तो करें ये काम

जरुरी सूचना – 

  • MG-GSK परियोजना के अंतर्गत भर्ती प्रक्रिया पूर्णतः पारदर्शी है। इसमें किसी भी प्रकार का लेन देन एवम् कोई एजेंसी शामिल नहीं है। इससे संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायत हेतु [email protected] इस ईमेल आईडी पर सूचित करें। आवेदक स्वविवेक का उपयोग करते हूए इस तरह के लोगों से सावधान रहे।
  • इस परियोजना में सभी पद तीसरे पक्ष के मानदेय पर है और पद पूर्णतः अस्थाई है, तथा सभी पदों की कार्यावधि प्रदर्शन मुल्यांकन और अनुबंध की अवधि तक ही मान्य होगी।

महात्मा गाँधी ग्रामीण सेवा केंद्र परियोजना के लाभ –

  • इसका लाभ सीधे तौर पर मध्यप्रदेश के नागरिकों को मिलेगा।
  • स्वरोजगार और रोजगार के अवसर पैदा होंगे।
  • सरकारी योजनाओं का लाभ पाने में ग्रामीणों को फायदा होगा।
  • 23 हजार ग्राम पंचायतों को MG-GSK CSC केन्द्रों का लाभ मिलेगा।
  • इस योजना के तहत खोले गए जन सेवा केन्द्र, G2C, G2B और B2B सेवायें उपलब्ध करवाएंगे।
  • डिजिटल इंडिया, और आत्मनिर्भर भारत जैसे बड़े अभियानों को गति मिलेगी।

इसे पढ़ें – खरीफ फसलों का MSP 2022-23

सवाल जबाब (FAQ) –

What Is Mahatma Gandhi Gramin Seva Kendra?

महात्मा गाँधी ग्राम सेवा केंद्र, CSC और डिजिटल इंडिया मिशन के अहम् हिस्से के रूप में कार्य करते हुए मध्यप्रदेश के सभी ग्राम पंचायतों तक सरकारी योजनाओं का लाभ आम लोगों तक पहुँचाने में मदद करेगा।

महात्मा गांधी ग्रामीण सेवा केंद्र खोलने के लिए कितना पैसा लगता है?

नया CSC खोलने के लिए कोई फीस नहीं देनी होगी। सिर्फ आपके पास योग्यता होनी चाहिए।

महात्मा गांधी ग्रामीण सेवा केंद्र कौन खोल सकता है?

मध्यप्रदेश के सभी इच्छुक युवा जिनकी आयु 18 वर्ष से अधिक है। और वे कंप्यूटर की अच्छी जानकारी रखते हैं।

1 ग्राम पंचायत में कितने महात्मा गांधी ग्रामीण सेवा केंद्र खोले जा सकते हैं?

अभी तक सिर्फ एक MG-CSC खोलने का प्रावधान किया गया है।

महात्मा गांधी ग्रामीण सेवा केंद्र खोलने पर क्या हमें मासिक वेतन दी जाएगी?

सरकार की तरफ से कोई मासिक वेतन नहीं दिया जाता। लेकिन सुविधाओं की बदले लिए जाने वाले शुल्क से अच्छी खासी आमदनी हो जाती है।

महात्मा गांधी ग्रामीण सेवा केंद्र और सीएससी कॉमन सर्विस सेंटर में क्या अंतर है?

MG-GSK परियोजना मध्यप्रदेश सरकार के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के लिए तैयार की गयी है। जबकि कॉमन सर्विस सेंटर योजना पूरे देश के लिए है।

महात्मा गांधी ग्रामीण सेवा केंद्र में कितनी प्रकार की भर्ती हो रही हैं?

इस योजना के तहत निम्न पदों के लिए अस्थाई भर्ती की जाती है।

  • VLE विलेज लेवल इंटरप्राइजेज
  • ब्लॉक कोऑर्डिनेटर
  • डिस्ट्रिक्ट मैनेजर
  • HR & Admin Coordinator

इसे पढ़ें – हेल्पलाइन नंबर – एक परिवार एक नौकरी

Leave a Comment