(ndhm.gov.in) हेल्थ कार्ड कैसे बनाये – डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड

दोस्तों आपको याद होगा कि 15 अगस्त 2020 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन के अंतर्गत डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड बनाने की बात कही थी. लगभग 1 साल के बाद 27 सितम्बर 2021 को पीएम मोदी ने आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन को लांच करके हेल्थ कार्ड बनाने की योजना को जमीनी तौर पर शुरू कर दिया है।

इस लेख आइये जानते हैं कि आप डिजिटल हेल्थ कार्ड क्या है?, इसे कैसे बनाये? और इसको बनवाने से आपको क्या क्या फायदे मिलेंगे –

डिजिटल हेल्थ आईडी क्या है?

नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन के अंतर्गत, भारत सरकार सभी आम नागरिकों को डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड बनाने का मौका दे रही है। डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड की मदद से लोगों के सभी स्वास्थ्य रिकॉर्ड ऑनलाइन स्टोर रहेंगे, जिससे उन्हें इलाज के समय कोई जाँच रिपोर्ट, पर्ची या मेडिकल रिपोर्ट साथ नही रखनी पड़ेगी। डॉक्टर, अब मरीज के हेल्थ कार्ड को देख कर उसके पुराने मेडिकल रिकॉर्ड को चेक कर सकेंगे, जिससे मरीज का बेहतर इलाज करना संभव होगा।

हेल्थ कार्ड कैसे बनाये –

भारत सरकार ने डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड बनाने की ऑनलाइन फैसिलिटी चालू कर दी है. इसे आप मोबाइल या कंप्यूटर की मदद से अपने आप ही बना सकते हैं –

स्टेप 1.  इसके लिए आपको सबसे पहले आपको नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन की वेबसाइट ndhm.gov.in पर आ जाना है –  अब होम पेज के टॉप राईट कार्नर पर दिख रहे Create Your Health ID बटन पर क्लिक करना है.

हेल्थ आईडी कार्ड कैसे बनाये

स्टेप 2. अब आपके सामने हेल्थ आईडी क्रिएट करने का पेज खुल जाएगा, यहाँ आप आधार कार्ड या मोबाइल नंबर की मदद से अपने हेल्थ आईडी बना सकते हैं. अगर आपके आधार से मोबाइल नंबर जुड़ा है तो Generate via Aadhaar बटन पर क्लिक कर देना है.

हेल्थ कार्ड ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

अगर आपके आधार से मोबाइल नही जुड़ा है या आधार ही नही है तो आप नीचे दिए इस क्लिक हियर लिंक पर क्लिक कर सकते हैं.

👉 आपका पैन, आधार से जुड़ा है ऐसे करें पता

नोट –

मोबाइल नंबर से पूरा प्रोसेस करने में हो सकता है आपको जादा टाइम लगे क्योंकि आधार कार्ड वाले आप्शन से आपकी ज्यादातर डिटेल अपने आप ही फेच हो जाती हैं. जैसे नाम, एड्रेस, प्रोफाइल फोटो आदि.

हेल्थ कार्ड ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रोसेस –

स्टेप 3. आधार से डिजिटल हेल्थ आईडी बनाने के लिए Generate Via Aadhaar बटन पर क्लिक करें। बॉक्स में आधार नंबर भरकर, I agree terms बॉक्स को टिक करके, नीचे I am not a robot पर टिक करें और सबमिट बटन दबा दें।  इसके बाद आपको अपने आधार से लिंक मोबाइल पर एक आएगा, इसे भरकर सबमिट करना है।

स्टेप 4. अगले स्टेप में आपको अपना मोबाइल नंबर भरकर सबमिट करना है, OTP फिर से बॉक्स में फिल करके सबमिट कर देना है। इस तरह आपका मोबाइल नंबर भी हेल्थ कार्ड से जुड़ जाएगा।

स्टेप 5. इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलेगा जिसमें आपकी आधार वाली सारी डिटेल लिखे प्रोफाइल फोटो, डेट ऑफ़ बर्थ, एड्रेस आदि अपने आप ही फिल हो जायेंगी. यहाँ आपको सिर्फ एक PHR address यानी पर्सनल हेल्थ रिकॉर्ड एड्रेस बनाना होगा। आपका PHR एड्रेस बिलकुल यूनिक होगा, इसे आप अपने हिसाब से कुछ भी रख सकते हैं, इसके लास्ट में ईमेल आईडी की तरह ही @ndhm अपने आप ही लग जाएगा. इसके नीचे आप अपना ईमेल भी दे सकते हैं, ये विकल्प भरना आवश्यक नही है. तो इतना काम करने के बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है.

स्टेप 6. तो इतना करते ही आपका डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड बन जाएगा। इसमें आपकी हेल्थ आईडी नंबर और QR कोड भी दिया होता है, अगर आप इसे डाउनलोड करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए Download Health ID card बटन पर क्लिक करके डाउनलोड भी कर सकते हैं।

देखें विडियो —–

PHR Address क्या है? (phr address meaning)

डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड में PHR address का फुल फॉर्म पर्सनल हेल्थ रिकॉर्ड एड्रेस होता है। यह ईमेल आईडी की तरह यूनिक होता है, इसे आप अपने अनुसार कुछ भी रख सकते हैं, बशर्ते किसी ने वह नाम पहले से न लिया हो।

phr address in health id example – [email protected], [email protected]

हेल्थ कार्ड के फायदे –

डिजिटल हेल्थ कार्ड को बनवाने का सबसे बड़ा फायदा ये होगा कि आप देश के चाहे जिस कोने इलाज के लिए जाएंगे, आपको कोई जांच रिपोर्ट या पर्ची आदि नहीं ले जानी पड़ेगी। ऐसा इसलिए क्योंकि आपकी सारे पुराने हेल्थ रिकॉर्ड, डिजिटल हेल्थ आईडी कार्ड में मौजूद होंगे, डॉक्टर को आप सिर्फ अपनी यूनिक हेल्थ आईडी बताएँगे और आपके सभी पुराने इलाजों, दवाइयों या जांचों की जानकारी डॉक्टर को अपने आप ही पता चल जायेगी.

क्या डिजिटल हेल्थ आईडी बनाना अनिवार्य है?

आपको बतादें कि भारत सरकार फ़िलहाल लोगों हेल्थ आईडी कार्ड अपनी इच्छा से बनाने का मौका दे रही है, यानी इसके लिए अभी कोई अनिवार्यता नही रखी गयी है.

Leave a Comment