Indira Gandhi Awas Yojana List 2021 | Check IAY / PMAYG Beneficiary

Indira Gandhi Awas Yojana List जारी की जा चुकी है। जिन लोगों ने इस योजना में आवेदन किया था, वे अब इस लिस्ट में अपना नाम ऑनलाइन चेक कर सकते हैं। इस आर्टिकल में हमने इंदिरा आवास योजना की नयी सूची में अपना नाम देखने और नया आवेदन करने की प्रक्रिया स्टेप बाई स्टेप बताई है। इसलिए इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक पढ़ें –

इंदिरा गांधी आवास योजना सूची 2021 –

प्रधानमंत्री आवास योजना की तरह इंदिरा गाँधी आवास योजना भी गरीबों को पक्के मकान बनाने के लिए आर्थिक मदद देती है। यह योजना प्रधानमन्त्री आवास योजना ग्रामीण (IAY / PMAYG)के नाम से भी जानी जाती है। इस वर्ष BPL सूची में आने वाले जिन परिवारों ने इंदिरा गाँधी आवास योजना में आवेदन किया था। उनका नाम IAY List 2020 में हो सकता है।

आपको बता दें, देश के सभी अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक, और SC/ST वर्ग के BPL सूची में आने वाले सभी परिवार जिनके पास अपना पक्का मकान नहीं है, वे इस योजना के पात्र हैं। पिछले कुछ सालों के विवरण को देखें तो मैदानी ग्रामीण क्षेत्रों में आर्थिक सहायता के तौर पर लाभार्थी को लगभग 1 लाख 20 हजार रूपए मिलते हैं। लेकिन वहीँ पहाड़ी क्षेत्रों में रहने वाले परिवारों को यह राशि और अधिक (लगभग 1 लाख 30 हजार) मिलती है।

Key Points of Indira Awas Yojana List 2021 –

योजना का नाम इंदिरा गाँधी आवास योजना
मंत्रालय का नाम ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार 
योजना का प्रकार ऑनलाइन
विशेष लाभार्थी  बीपीएल नागरिक
ऑफिसियल वेबसाइट https://pmayg.nic.in/netiay/home.aspx

प्रधानमंत्री आवास योजना 2020 की नई लिस्ट कैसे देखें? –

आइये जानते हैं कि IAY List 2020 में किसी लाभार्थी का नाम कैसे देखा जाता है। दोस्तों इसके दो तरीके हैं –

  1. रजिस्ट्रेशन नम्बर से (जो आवेदन के समय मिलता है)
  2. अपने अन्य विवरण से (advanced search)

1. अपने रजिस्ट्रेशन नम्बर से IAY List देखें –

  •  सबसे पहले इंडिया गाँधी आवास योजना की ऑफिसियल वेबसाइट pmayg.nic.in/netiay/home.aspx पर जाना होगा। इस लिंक पर जाकर, डायरेक्ट लाभार्थी सूची चेक करने वाले पेज पर आप पहुँच सकते हैं।
  • होम पेज पर Stakeholder मेनू के अन्दर दिए गए IAY/PMAYG Beneficiary पर क्लिक करना होगा। जैसा कि नीचे दिखाया गया है –

Indira Gandhi Awas Yojana list

 

  • इसके बाद आपको अपना रजिस्ट्रेशन नम्बर भरना होगा। जो आवेदन करते समय मिला होगा। अगर नहीं है तो अपना ग्राम प्रधान से संपर्क कर सकते हैं।

Indira Gandhi Awas Yojana list

 

  • इसमें अपना रजिस्ट्रेशन नंबर भरकर सबमिट पर क्लिक करें। अब यदि लाभार्थी का नाम लिस्ट में होगा तो उसकी पूरी डिटेल देख सकते हैं। इसका विवरण कुछ इस प्रकार होगा। हालाँकि ये खाली है क्योंकि हमने कोई सही नम्बर नहीं डाला था।

IAY / PMAYG list

Check Indira Awas Yojana List Using Advanced Search

  • इसके लिए ऊपर बताये गए निर्देश के अनुसार रजिस्ट्रेशन नंबर भरने वाले पेज के तक जाना है। उसके बाद नीचे दिख रहे Advanced Search पर क्लिक करना है।
  • अब एक फॉर्म खुलेगा जिसमे आपको अपनी कुछ डिटेल जैसे राज्य, जिला, पंचायत आदि भरना होगा। सब भरने के बाद Search पर क्लिक करें, लाभार्थी की पूरी डिटेल दिख जाएगी।

Indira Gandhi Awas Yojana list

 

Indira Gandhi Awas Yojana का उद्देश्य

इंदिरा गाँधी आवास योजना का उद्देश्य देश के सभी ग्रामीण क्षेत्रों में गरीब परिवारों को जिनके पास आर्थिक समस्या के कारण अभी तक पक्का घर नहीं है, उन्हें पक्का घर बनवाने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है। जिससे उनके जीवन में खुशहाली और विकास का मार्ग खुल जाये। इस योजना का लक्ष्य 2022 तक हर गरीब परिवार को पक्की छत मुहैय्या करवाना है।

Indira Awas Yojana Apply Online 2021

IAY या प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के ऑनलाइन आवेदन का अधिकार अभी आम लोगों द्वारा नहीं किया जा सकता है। अधिक जानकारी के लिए आप अपने ग्राम प्रधान या ब्लाक स्तर पर जानकारी ले सकते हैं। क्योकि इसका आवेदन करने का अधिकार या तो ग्राम पंचायत तो है या ब्लाक स्तर पर है। अधिक जानकारी के लिए यह विडियो देखें –

इंदिरा गाँधी आवास योजना (IAY/PMAYG) का हेल्प लाइन नम्बर

किसी प्रकार की सहायता के लिए आप इन नंबरों का उपयोग कर सकते हैं –

PMAYG Technical Helpline Number

Toll Free Number: 1800-11-6446

 Mail: [email protected]

आप https://pmayg.nic.in/netiay/ContactFilled.aspx साईट पर जा कर अन्य अधिकारियों के नंबर भी ले सकते हैं।

Indira Awas Yojana 2021 के लाभ

  • दोस्तों इंडिया गाँधी आवास योजना या आवास योजना ग्रामीण का लक्ष्य 2 करोड़ 26 लाख 97 हजार 788 परिवारों को पक्का घर देना है। अभी तक 1 करोड़ से जादा परिवारों को घर मिल चुका है।
  • अब तक सरकार इस योजना को सफल बनानें के लिए 1,66,757.83 करोड़ रुपये दे चुकी है।
  • आर्थिक मदद मिलने से गरीब परिवारों को अपना घर बनवाने में काफी मदद मिल रही है।
  • मोदी सरकार के डिजिटल इंडिया मिशन की वजह से ग्रामीण आवास योजना का क्रियान्वयन करने में आसानी हो रही है।
  • भ्रष्टाचार, घूसखोरी भी कम हुई है।
नोट – इंदिरा गाँधी आवास योजना का नाम अब बदल कर प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना कर दिया गया है। इसलिए इसमें कोई फर्क नहीं है। 

⇓ क्या आपने ये जानकारियां पढ़ी ⇓

किसान पेंशन योजना ऑनलाइन आवेदन

पीएम किसान की 8वीं किस्त कब आएगी

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण / शहरी (लिस्ट में अपना नाम देखें)

Leave a Comment