इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना – ऐसे करें आवेदन | पात्रता, आवश्यक दस्तावेज

दोस्तों आज हम आपको राजस्थान सरकार की इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं। यह योजना मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा राज्य के छोटे कारोबारियों के लिए कुछ समय पहले ही शुरू की गयी है। आइये इंदिरा गाँधी क्रेडिट कार्ड योजना के आवेदन, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज व लाभ के बारे में विस्तार से जानते हैं –

इंदिरा गाँधी क्रेडिट कार्ड योजना –

इंदिरा गाँधी क्रेडिट कार्ड योजना, राजस्थान के शहरी क्षेत्रों के छोटे कारोबारियों व स्वरोजगार के इच्छुक युवाओं के लिए शुरू की गयी है। योजना के तहत लगभग 5 लाख से जादा पात्र आवेदकों को 50 हजार रुपये तक का ब्याज मुक्त लोन, बिना गारंटी दिया जाएगा। राजस्थान सरकार इस योजना को अगले 1 साल तक कार्यान्वयित करेगी।

👉 खेत का नक्शा राजस्थान कैसे देखें?

इंदिरा गाँधी क्रेडिट कार्ड योजना

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने योजना का प्रारूप विधान सभा में प्रस्तुत करते हुए कहा कि इस योजना से गरीब व्यापारियों, बेरोजगार युवाओं और स्वरोजगार शुरु करने के इच्छुक लोगों को काफी मदद मिलेगी।

योजना के मुख्य बिंदु

योजना का नाम इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना
कब से लागू 6 अगस्त 2021
कब तक चलेगी 31 मार्च 2022
राज्य उत्तर प्रदेश
मंत्रालय स्वायत्त शासन विभाग राजस्थान 
उद्देश्य जरुरतमंद छोटे कारोबारियों को बिना गारंटी लोन देना

इंदिरा गाँधी क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ किन्हें और कैसे मिलेगा?

दोस्तों आपको बता दें कि यह योजना शहरी क्षेत्रों के कुछ विशेष वर्ग में आने वाले पात्र आवेदकों के लिए मान्य है। 50 हजार रुपये तक का लोन बिना गारंटी पाने वाले लाभार्थियों की पात्रता व आवेदन प्रक्रिया की जानकारी नीचे दी गयी है।

👉 10 लाख तक बिना लोन – ऐसे करें apply 

आवश्यक पात्रता –

यह योजना अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति व अन्य पिछड़ा वर्ग के निम्न लिखित लाभार्थियों को जिनकी मासिक आय 15 हजार से अधिक नहीं है, इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना में पात्रता दी गयी है –

  • छोटे व्यापारी
  • रेहड़ी, पटरी पर दुकान लगाने वाले
  • ठेला व्यापारी
  • पथ विक्रेता
  • लॉक डाउन के कारण स्वरोजगार के इच्छुक युवा
  • व बेरोजगार

आवश्यक दस्तावेज –

  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक खाता पासबुक
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • व्यापारी होने का प्रमाण पत्र, आदि।

कैसे मिलेगा लाभ –

दोस्तों आपको बता दें कि इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना का क्रियान्वयन राजस्थान के स्वायत्त विभाग द्वारा किया जा रहा है। योजना में हर जिले के नोडल अधिकारियों और जिला कलेक्टरों का विशेष रोल होगा। विभिन्न सूचनाओं की माने तो अगले 1 महीने के भीतर योजना का लाभ लेने सम्बन्धी पूरी जानकारी सार्वजानिक की जा सकती है। फ़िलहाल अभी ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन सम्बन्धी अगली सूचना का इन्तजार है।

👉 PM Svanidhi Yojana Online Apply 2021

सवाल जबाब (FAQ) –

इंदिरा गाँधी क्रेडिट कार्ड योजना, राजस्थान में कब तक चलेगी?

सरकारी सूचनाओं के अनुसार योजना का क्रियान्वयन 31 मार्च 2022 तक यानी 1 साल तक किया जाएगा। इसके बाद राज्य में प्राप्त आंकड़ों के आधार पर योजना को आगे बढ़ाने पर विचार किया जा सकता है।

योजना के तहत लिए गए लोन को कितने दिनों में चुकाना होगा?

राजस्थान सरकार ने इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के तहत लिए गए लोन को तीन महीने के अन्तराल के बाद से अगले 12 महीने के भीतर चुकाने का नियम बनाया है।

हमारे शहर के किन लोगों या व्यापारियों को लोन मिलेगा?

इस योजना में राजस्थान के सभी शहरी क्षेत्रों के छोटे व्यापारियों जैसे पथ विक्रेता, रेहड़ी पटरी या ठेला लगाने वाले लोग जिनके पास नगर निकाय या टाउन वेडिंग कमिटी की ओर से जारी प्रमाण पत्र होंगे, उन्हें लोन मिलेगा।

आवेदन के कितने दिनों के भीतर लोन मिल जाता है?

प्रमाण पत्रों की जाँच के बाद लोन कुछ ही दिनों में आवेदक के बैंक खाते में भेज दी जाती है।

👉 स्वरोजगार के लिए स्टार्टअप इंडिया सीड फण्ड लोन लें 

Leave a Comment