जन औषधि केंद्र खोलने की प्रक्रिया, आवेदन व हेल्पलाइन की जानकारी

भारत मे हर जरुरतमंद को सस्ती दर पर दवाई और मेडिकल सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए फार्मास्यूटिकल एंड मेडिकल डिवाइसेज ब्यूरो ऑफ इंडिया द्वारा एक योजना चलाई जा रही है। इस योजना के तहत देश के हर हिस्से जन औषधि केंद्र खोले जाते हैं। अगर कोई अपने गाँव या शहर मे जन औषधि केंद्र खोलना चाहता है तो इस आर्टिकल मे इसी के बारे मे बताने जा रहे हैं। आइये जानते हैं इसके बारे मे विस्तार से –

जन औषधि केंद्र क्या है?

देश में आर्थिक रूप से कमजोर लोगो को मेडिसिन की सुविधा देने और सस्ती दर पर दवाईयां उपलब्ध करवाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा इस योजना का संचालन किया जा रहा है। इस प्लान के तहत देश के आम नागरिक देश के हर कौने मे जन औषधि केंद खोल सकते हैं।

जन औषधि केंद्र

भारत सरकार द्वारा 2008 मे इस योजना की शुरुआत करने का फैसला लिया गया था, जिसके बाद यह कयास लगाये जा रहे थे कि देश मे लगभग 734 जिलो मे जन औषधि केंद्र खोले जायेंगे। लेकिन अब पीएम मोदी की सरकार ने इस स्कीम को और भी विस्तृत रूप से लागू करने का काम किया है। इस योजना का उद्देश्य देश मे जरुरतमंदों को सस्ती दर पर उत्तम क्वालिटी की दवाईयां उपलब्ध करवाना है।

इसे पढ़ें – डिजिटल स्वास्थ्य हेल्थ कार्ड कैसे बनेगा?

जन औषधि केंद्र खोलने की प्रक्रिया –

योजना के तहत जन औषधि केंद्र खोलने के लिए इस तरह से आवेदन कर सकते हैं –

  1. इसके लिए सबसे पहले इस योजना से जुडी वेबसाइट पर आना होता है।
  2. इस वेबसाइट पर Apply for kendra के नाम से मेन्यु बार के आप्शन Click here to apply क्लिक करने के बाद आपको केंद्र खोलने के लिए आवेदन करना होता है।
  3. इसके बाद नीचे दिए गये Register Now आप्शन की मदद से इस केंद्र के लिए रजिस्टर करना होता है।
  4. रजिस्टर करने के बाद इसमे आपको एक लॉग इन आईडी और पासवर्ड मिल जाता है, जिसकी मदद से आपको इसमे लॉग इन करना होता है।

लॉग इन करने के बाद इसमे आवेदन करने का आप्शन मिल जाता है। जिसमे अपने केंद्र के बारे मे कुछ सामान्य जानकारी भरने के बाद इस फॉर्म को सबमिट करना होता है। इसके बाद आपका केंद्र खोलने के लिए फॉर्म सबमिट हो जाता है।

जन औषधि केंद्र खोलने के लिए उपलब्ध लोकेशन –

अगर आपको जन औषधि केंद्र खोलने के लिए जगह की तलाश है तो उसके लिए आपको सबसे पहले यह पता करना होता है किन – किन जगहों पर जन औषधि केंद्र खोलने की अनुमति दी जाती है। जन औषधि केंद्र खोलने के लिए पहले से ही कुछ जगह निर्धारित है। उन जगहों के बारे मे आप इस तरह से पता कर सकते है –

  • इसके लिए आपको सबसे पहले जन औषधि केंद्र की वेबसाइट पर आना होता है।
  • इस वेबसाइट पर आने के बाद इसमे आपको एक आप्शन Apply for kendra के नाम से मिलता है। उस पर क्लिक करने के बाद अगले पेज पर आना होता है।
  • इसके बाद इस पेज पर आपको Check Available Location के नाम से आप्शन मिलता है, उस पर क्लिक करना होता है, इसमे आपको अपने राज्य का और अपने जिले का चुनाव का होता है।

इसके बाद उस जिले मे उपलब्ध सभी खली जगह के बारे मे जानकारी मिल जाती है।

इसे पढ़ें – ऐसे करें जननी सुरक्षा योजना में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2022

जन औषधि केंद्र खोलने के लिए अनिवार्य पात्रतायें –

आवेदक के पास यह कुछ निम्न पात्रताओं का होना जरुरी है –

  • जो भी आवेदक  यह केंद्र खोलना चाहता है उसके पास डीफार्मा और बी फार्म होना चाहिए।
  • इसके आलावा जो भी आवेदक इसे खोलना चाहता है उसको आवेदन के साथ अपनी डिग्री को भी जमा करवाना जरुरी है।
  • इस तरह के केंद्र खोलने के लिए गैर सरकारी और नॉन चैरीटेबल संस्थानों को प्राथमिकता दी जायेगी।

पीएम जन औषधि केंद्र खोलने के लिए जरुरी दस्तावेज –

  • आवेदक का आधार कार्ड – आवेदन करने वाले प्रार्थी का खुद का आधार कार्ड होना जरुरी है।
  • पेन कार्ड – इसके अलावा आवेदक का पेन कार्ड भी इस फॉर्म के साथ लगा जरुरी होता है।
  • दिव्यांग सर्टिफिकेट – अगर कोई दिव्यांग व्यक्ति इस केंद्र के लिए लाइसेंस लेना चाहता है तो उसके पास दिव्यांग का प्रमाण पत्र होना चाहिए, इन्हें पहले वरीयता दी जाती है।
  • आईटीआर – पिछले 2 साल का आईटीआर या आय कर रिटर्न।
  • बैंक स्टेटमेंट – पिछले 6 माह का बैंक स्टेटमेंट भी इस फॉर्म के साथ लगाना जरुरी है।
  • जीएसटी घोषणा पत्र – इसके अलावा आवेदक को  अपनी फर्म के नाम का जीएसटी प्रमाण पत्र भी देना होता है।
  • अगर कोई एनजीओ है तो उसको दर्पण की आईडी बतानी होती है।

इसे पढ़ें – राजस्थान चिरंजीवी योजना 2022 Helpline Number

जन औषधि केंद्र के लाभ और विशेषतायें –

  • इस योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा 2018 मे की गई थी।
  • योजना के तहत जरूरतमंद और आर्थिक रूप से कमजोर लोगो को दिया जाएगा।
  • इस केंद्र पर मिलने वाली दवाईयां ब्रांडेड और प्रभावी होगी।
  • इसके अलावा देश के लगभग हर जिले मे इस योजना के तहत आउटलेट खोले जायेंगे।
  • इस केंद्र पर उपलब्ध होने वाली सभी प्रकार की दवाईयां ब्रांडेड और क्वालिटी वाली होगी।
  • ब्रांडेड दवाईयां जो इस केंद्र पर मिलेगी वो लगभग 50 से 90 प्रतिशत तक सस्ती होगी।
  • इस योजाना के तहत अब तक पुरे देश मे 8689 केंद्र खोले जा चुके है।
  • इसके अलावा इस केंद्र पर मिलने वाली लगभग सभी दवाईयों मे 20 प्रतिशत तक का मार्जिन केंद्र मालिक के पास रहता है।
  • अगर किसी जिले मे या गाँव मे 1 से अधिक केंद्र है तो उन दोनों के बीच मे लगभग 1 किलोमीटर का अंतर होना चाहिए।

जन औषधि केंद्र हेल्पलाइन नंबर्स –

अगर आपको किसी भी तरह की समस्या आती है तो आप 1800-180-8080 पर संपर्क कर सकते है।

 

इसे पढ़ें – फिट इंडिया मूवमेंट 2022, Download करें Fitness Protocol PDF

Leave a Comment