मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव की तारीख 2021 – जल्द होगा MP Panchayat Election

मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव की तारीख 2021: दोस्तों मध्य प्रदेश में पंचायत चुनावों को लेकर बड़ी खबर निकल कर आ रही है। निर्वाचन आयोग की ओर से पंचायत व नगरीय चुनावों को लेकर तारीखों का ऐलान जल्द ही होने वाला है। त्रिस्तरीय ग्राम पंचायत स्तर के चुनावों की तारीखों को लेकर आम लोगों में काफी उत्सुकता देखने को मिल रही है।

मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव की तारीख 2021

MP के सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों को प्रस्तावित संसोधनों के साथ साथ दूसरी जानकारियां भी अप्रैल के आखिरी सप्ताह तक पहुँच सकती हैं। जिला स्तर तक सभी जानकारियां पहुँचने के बाद ही मध्यप्रदेश पंचायत चुनावों की तारीखों का ऐलान हो सकेगा।

अब तक की ताजा अपडेट के मुताबिक मध्यप्रदेश में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव तीन चरणों में कराये जायेंगे। राज्य निर्वाचन आयोग ने विकास खंड व पंचायत स्तर पर चुनाव कार्यक्रमों की रूपरेखा, जिला निर्वाचन अधिकारी को भेज दी है। यहाँ जिला पंचायत और जनपद पंचायत के सदस्यों का चुनाव EVM मशीनों से और सरपंच का चुनाव परंपरागत मतपत्रों द्वारा होने की बात कही जा रही है।

मध्यप्रदेश के सभी ग्राम पंचायतों में चुनाव प्रक्रिया शुरू –

पंचायत और जनपद स्तर के चुनावों को लेकर निर्वाचन आयोग ने सभी कलेक्टरों को अपने सुझाव और सूचनाएं देने का आदेश दिया जा चुका है। जिससे EVM का प्रयोग और मतपर्चों द्वारा चुनावों की तैयारियों में देरी न हो। आपको बतादें कि मध्यप्रदेश में कुल ग्राम पंचायतों की संख्या 23 हजार 912 है। जिसमें इस प्रकार तीन चरणों में चुनाव हो सकते हैं –

पहला चरण  7527 ग्राम पंचायत
दूसरा चरण  7531 ग्राम पंचायत
तीसरा चरण  8814 ग्राम पंचायत

पंचायत चुनाव 2021 की तारीखों में क्यों हो रही देरी –

मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव की तारीखों के ऐलान में हो रही देरी के निम्नलिखित कारण हैं –

  • पंचायत चुनावों के लिए आवश्यक पुलिस बल इस समय पश्चिम बंगाल और अन्य राज्यों में हो रहे विधान सभा इलेक्शन में भेजी गयी हैं।
  • मध्य प्रदेश में 10वीं और 12वीं के बोर्ड परीक्षाएं भी अप्रैल-मई में हो रही हैं।
  • कोरोनो महामारी के कारण राज्य में लॉक डाउन लगाने की स्थिति बन रही है।
  • अन्य राज्यों में हो रहे चुनावों के कारण EVM मशीने भी कम पड़ रही हैं।
  • हाई कोर्ट के आदेश के कारण अभी तक मध्यप्रदेश के चुनावों को टाला रहा है।

पंचायत चुनावों की आरक्षण प्रक्रिया में भी हुई देरी –

जैसा कि आप सब जानते हैं कि हाईकोर्ट द्वारा मध्य प्रदेश पंचायत चुनावों की आरक्षण प्रक्रिया पर रोक लगाने का आदेश दे चुका है। जिससे निर्वाचन आयोग को चुनाव प्रक्रिया के सबसे जरुरी भाग आरक्षण सूची जारी करने देरी हो रही है।

ऐसे में मध्य प्रदेश सरकार आरक्षण प्रक्रिया को जितनी जल्दी पूरा कर लेती है, उतनी ही जल्दी पंचायत व जनपद स्तर के चुनावों की तारिख घोषित होगी। हालाँकि राज्य सरकार की ओर से कहा गया है कि चुनावों प्रक्रिया की निचले स्तर की तैयारियां पूरी कर ली जाएँ, जिससे पंचायत चुनाव की तारीखें आते ही सक्रियता से मतदान प्रक्रिया शुरू हो सके।

मध्य प्रदेश पंचायत चुनावों में हो रही देरी को लेकर आम लोगों में दिख रहा है रोष –

आम लोगों में पंचायत स्तर के चुनावों के समय पर न होने के कारण रोष भी देखने को मिल रहा है। लोग अब पंचायत व जनपद स्तर के चुनाव जल्दी कराने की मांग कर रहे हैं।

अन्य पढ़ें —————–

पीएम किसान की आठवीं किस्त कब आएगी? देखें 

आत्मनिर्भर भारत अभियान क्या है? जाने

किसान क्रेडिट कार्ड कैसे बनवाएं 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *