नवीन रोजगार छतरी योजना क्या है? 2022 में कैसे उठायें लाभ?

नवीन रोजगार छतरी योजना, उत्तर प्रदेश के दलित और अनुसूचित जाति के लोगों के विकास पर केन्द्रित सरकारी योजना है। इसकी शुरुआत मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने 18 जुलाई 2020 को की थी। योजना का लक्ष्य कोरोना महामारी के कारण परेशानी उठाने वाले गरीब लोगों को रोजगार और आर्थित सहायता प्रदान करना है। इस आर्टिकल में उत्तर प्रदेश नवीन रोजगार छतरी योजना से जुडी सभी जरुरी जानकारियां जैसे आवेदन प्रक्रिया, पात्रता आदि आपके साथ साझा की हैं –

नवीन रोजगार छतरी योजना 2022 –

यूपी में नवीन रोजगार छतरी योजना की शुरुआत, गरीब अनुसूचित जाति के परिवारों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए की गयी है। योजना के तहत गरीब अनुसूचित जाति के परिवारों को 7.5 लाख तक की आर्थिक सहायता का लक्ष्य है।

योजना का प्रारूप नाम अनुसार छतरी के सामान ही है, क्यों कि इस योजना के द्वारा दी जाने वाली राशि से छोटे और मंझोले व्यवसाय, जैसे परचून की दुकान, जनरेटर सेट, टेलरिंग, साइबर कैफे, ड्राई क्लीनिंग, बैंकिंग सहायक, टेंट हाउस गौपालन आदि शुरू करने पर बल दिया गया है।

इसे भी पढ़ें – एक देश एक राशन कार्ड योजना

नवीन रोजगार छतरी योजना का उद्देश्य

इस स्कीम का मुख्य उद्देश्य कोरोना महामारी के कारण बेरोजगार हुए अनुसूचित जाति के गरीब परिवारों को आर्थिक और व्यावसायिक मदद मुहैय्या करवाना है। जिससे वह आत्मनिर्भर और आर्थिक रूप से सक्षम बन सकें। अनुसूचित जाति के लोगों के लिए यह स्कीम काफी मददगार साबित हो सकती है, क्यों की सरकार इस स्कीम से लोगों को स्वरोजगार के लिए प्रेरित कर रही है। जिससे वे अपने परिवार को महामारी के कारण हुई आर्थिक तंगी से बहार निकाल सकें।

आवश्यक पात्रता और जरुरी दस्तावेज –

योजना का लाभ पाने के लिए आवश्यक पात्रता और जरुरी दस्तावेज की जानकारी निम्नलिखित है –

  • योजना का लाभ सिर्फ उत्तर प्रदेश के स्थायी अनुसूचित जाति के निवासी ही उठा सकतें हैं।
  • आवेदक के पास आधार कार्ड, पहचानपत्र जैसे आधारभूत दस्तावेज होने चाहिए।
  • दीनदयाल उपाध्याय स्वरोजगार योजना से जुड़े आवेदक ही योजना के पात्र होंगें।
  • नवीन रोजगार छतरी योजना में पंजीकरण के लिए मोबाइल नंबर और निवास, आय जैसे प्रमाण पत्रों की जरुरत पड़ सकती है।।

इसे भी पढ़ें – यूपी का राशन कार्ड कैसे चेक करें

Naveen Rojgar Chatri Yojana के लाभ

  • यह योजना अनुसूचित जाति के गरीब लोगों को सीधे आर्थिक मदद करके रोजगार प्राप्त करने में मदद करेगी।
  • योजना में दी जाने वाली राशि से छोटे और मध्यम स्तर के रोजगार आसानी से शुरू किये जा सकेंगें।
  • प्रदेश के पिछड़े और गरीब वर्ग को आत्मनिर्भर बनकर देश के विकास में मदद का मौका मिलेगा।
  • कोरोना महामारी के कारण रोजगार गवां चुके लोगों को इस योजना से रोजगार मिलेगा। जिससे उनकी आर्थिक तंगी ख़तम होगी।

योजना की लेटेस्ट अपडेट –

आपको बतादें यह स्कीम फ़िलहाल पूरी तरह सक्रियता से काम नहीं कर रही है. क्योंकि सरकार द्वारा पिछले 1 साल से अधिक समय से कोई अपडेट या ऑफिसियल अपडेट सामने नहीं आई है.

इसे पढ़ें – फ्री वाला राशन कब तक मिलेगा?

Leave a Comment