Padhna Likhna Abhiyan 2022, पढ़ना लिखना अभियान की गाइडलाइन

Padhna Likhna Abhiyan Scheme: केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय ने पढना लिखना अभियान की शुरुआत 8 सितम्बर 2020 में की थी। यह अभियान देश में वयस्क साक्षरता को बढ़ाने और साल 2030 तक शत प्रतिशत साक्षरता लक्ष्य को पाने के दृष्टिकोंण से महत्व पूर्ण है। आइये इस लेख में इस अभियान से जुड़ी जरुरी बातें और महत्वपूर्ण बिन्दुओं को जानते हैं –

पढना लिखना अभियान 2022 –

पढना लिखना अभियान भारत में साल 2030 तक शत प्रतिशत साक्षरता पाने के लक्ष्य के साथ चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत  देश में 15 वर्ष से अधिक आयु वाले 57 लाख से अधिक अनपढ़ लोगो को स्कूल कॉलेजों के शिक्षित युवाओं की मदद से साक्षर बनाने का काम किया जा रहा है। जिससे उन्हें बुनियादी शिक्षा जैसे यातायात चिह्न समझने, आवेदन पत्र भरने, समाचारपत्र का शीर्षक पढ़ने, चिट्ठी लिखने-पढऩे, दो अंकों का जोड़, घटाव, गुणा, भाग आदि की समझ मिल सके।

इसे पढ़ें – Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana

Padhna Likhna Abhiyan Guidelines in Hindi –

  • इस अभियान में मुख्य रूप से महिलाओं, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति और अन्य पिछड़े वर्ग को शामिल किया जा रहा है।
  • हर राज्य के उन जिलों को प्राथमिकता मिलेगी जहाँ महिला साक्षरता दर 60 प्रतिशत से कम है।
  • पढना लिखना अभियान मुख्य रूप से हर चार महीने के चक्र में बुनियादी साक्षरता पर केन्द्रित है।
  • इस कार्यक्रम में ग्रामीण और शहरी दोनों तरह के क्षेत्रों को शामिल किया है।
  • इस योजना में स्कूल और कॉलेज के छात्रों, BTCE या DLED और एनसीसी, एनएसएस, एनवाईकेएस जैसे स्वयं सहायता समूहों का भी सहारा लिया जा रहा है।
  • स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी), स्वैच्छिक और उपयोगकर्ता समूहों और अन्य समुदाय आधारित संगठनों के गठन और भागीदारी को प्रोत्साहित किया जा सकता है।
  • इस योजना के तहत वयस्क शिक्षार्थियों के लिए बुनियादी साक्षरता मूल्यांकन राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी संस्थान (एनआईओएस) द्वारा साल में तीन बार किया जाएगा।

इसे पढ़ें – दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना 

Padhna Likhna Abhiyan official guidelines pdf download –

वयस्क शिक्षा निती के अंतर्गत जारी पढना लिखना अभियान योजना के आधार पर एक नयी योजना जल्द ही आने वाली है। जिससे 15 वर्ष या उससे अधिक आयु के वे सभी लोग जो अनपढ़ हैं उन्हें आधारभूत शिक्षा से जोड़ा जा सकेगा। इसके लिए सत्र 2020-21 में 224.95 करोड़ रुपये का बजट प्रस्तावित है। जिसमे केंद्र और राज्य दोनों का योगदान शामिल किया गया है।

आप पढना लिखना अभियान की ऑफिसियल गाइड लाइन की आधिकरिक PDF नीचे दी गयी लिंक से डाउनलोड करके पढ़ सकते हैं –

ऑफिसियल गाइड लाइन  Download Link

पढ़ना लिखना अभियान के लाभ –

  • यह अभियान देश में शिक्षा दर को बढ़ाने में मदद करेगा।
  • देश में 2030 तक 100 प्रतिशत साक्षरता दर पहुँचाने में यह अभियान मुख्य भूमिका निभाएगा।
  • 15 वर्ष या उससे अधिक आयु के लोगों को मुफ्त में बुनियादी शिक्षा मिल सकेगी।
  • इस अभियान से देश में शिक्षा से जुड़े अन्य अभियान चलाने में मदद मिलेगी।

पढना लिखना अभियान की नयी अपडेट –

  • जम्मू कश्मीर के सांबा और कुपवाड़ा जिलों में 40 हजार अनपढ़ लोगों को पढ़ना-लिखना अभियान से जोड़ा गया है। यहाँ 14 मई 2021 तक यह अभियान चलेगा।
  • इस अभियान की नयी अपडेट के अनुसार सत्र 2021 से 2026 के बीच में वयस्क शिक्षा के लिए कोई नयी योजना शिक्षा मंत्रालय ला सकती है।
  • यह अभियान साक्षर भारत अभियान को भी गति प्रदान करने में मदद करने के उद्देश्य से चलाया गया था।

इसे पढ़ें – आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन

2 thoughts on “Padhna Likhna Abhiyan 2022, पढ़ना लिखना अभियान की गाइडलाइन”

Leave a Comment