प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना फॉर्म ऑनलाइन अप्लाई, पात्रता, लिस्ट स्टेटस

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना, भारत सरकार की एक ऐसी योजना है जिसका मुख्य उद्देश्य गरीबों, किसानों, प्रवासी असंगठित श्रमिकों, वरिष्ठ नागरिकों और महिलाओं को वित्तीय राहत प्रदान करना है। इस लेख में हमने पीएम गरीब कल्याण योजना से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां आप तक पहुँचाने का प्रयास किया है, जिससे आप भी इस योजना का लाभ उठा सकें –

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2021

दोस्तों आपको बतादें कि पीएम गरीब कल्याण योजना की शुरूआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिसंबर 2016 में की गयी थी। शुरुआत में इस योजना का लाभ पाने के लिए अपनी आय घोषित और बैंक अकाउंट की KYC करवाना अनिवार्य था। 21 मार्च 2017 तक जिन लोगों ने अपनी चल-अचल संपत्ति को नहीं घोषित किया था। उन्हें आयकर रिटर्न में दिखाए जाने पर 77.25 प्रतिशत का जुर्माना लगता था।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का शुरूआती मुख्य लक्ष्य भ्रष्ट लोगों के काले धन का पर्दाफास करके, उसे गरीबों के हितों में लगाना था।  साथ ही PMGKY के तहत जुटाए गए डाटा के आधार पर मोदी सरकार ने गरीबों और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए नयी-नयी योजनाएं लाने का प्रयास कर रही थी।

पीएम गरीब कल्याण योजना के मुख्य बिंदु 

योजना का नाम  प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 
मंत्रालय  उपभोक्ता संरक्षण एवं खाद्य आपूर्ति विभाग 
योजना का स्टेटस  चालू 
उद्देश्य  गरीबों का आर्थिक और सामाजिक विकास 
लाभार्थी  देश के सभी गरीब परिवार 
New Update –

जम्मू कश्मीर में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अंतर्गत अभी तक बची हुई दालों को 10 मार्च 2021 तक प्रति परिवार डेढ़ किलो के हिसाब से वितरित किया जायेगा। यह फैसला सार्वजानिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत लिया गया है। इससे लगभग 1.77 लाख परिवारों को लाभ मिलेगा। 

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना फॉर्म –

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ उठाने के लिए ऑनलाइन आवेदन या ऑनलाइन फॉर्म भरने की आवश्यकता नहीं है। लाभार्थियों को योजना का लाभ सरकारी नियमानुसार दिया जाता है।

आवश्यक पात्रता –

भारत में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के वे परिवार जिनकी महीने भर की आय 15 हजार रुपये से कम है, पीएम गरीब कल्याण योजना का लाभ पाने के पात्र हैं। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना एक बड़ी परियोजना है इसके अंतर्गत बहुत सारी छोटी छोटी योजनाएं काम कर रही हैं।

योजना के नियम –

  • गरीब कल्याण योजना, देश में गरीब परिवारों के आर्थिक और सामाजिक सशक्तिकरण के लिए है।
  • देश में काला धन रखने वालों के खिलाफ कार्यवाही करना, और उस पैसों को गरीबों के कल्याण में लगाना इस योजना का उद्देश्य है।
  • प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत सभी लोगों को अपनी संपत्ति का ब्यौरा सरकार को देना अनिवार्य है।
  • इस योजना के अंतर्गत देश में विशेष परिस्थितियों में राहत पैकेज घोषित किये जाते हैं।
  • गरीबों को प्रतिमाह राशन देने की व्यवस्था गरीब कल्याण योजना का अहम् हिस्सा है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लिस्ट –

पीएम गरीब कल्याण योजना के लाभार्थियों की लिस्ट में 80 करोड़ लोग  जुड़ चुके हैं। कोरोना महामारी के दौरान हुए लॉक डाउन के दौरान गरीब कल्याण योजना का लाभ सभी लाभार्थियों को मिला था।

PM Garib Kalyan Yojana Rahat Package 2020 

दोस्तों जैसा कि आप सब जानते हैं कि भारत में कोरोना महामारी को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब देशव्यापी लॉक डाउन का ऐलान किया। तब गरीब लोगों को बहुत सी परेशानियाँ जैसे रोजगार, घर वापसी और राशन की कमी झेलनी पड़ी। इसी बीच केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने PM Garib Kalyan Yojana के अंतर्गत 26 मार्च 2020 को 1 लाख 70 हजार करोड़ के गरीब कल्याण राहत पैकेज घोषणा की थी।

इस राहत पैकेज का लक्ष्य लोगों की मूलभूत आवश्यकताओं की भरपाई करना था। प्रधान मंत्री गरीब कल्याण राहत पैकेज के अंतर्गत कई बड़े ऐलान किये गए। जिसमे सबसे बड़ी घोषणा देश के 80 करोड़ लोगों को मुफ्त में 5 किलो गेहूं या चावल और 1 किलो दाल देने की थी। शुरुआत में इस योजना को 3 महीने मतलब जून के आखिर तक चलाने का प्लान था। लेकिन महामारी को देखते हुए इसे 30 नवम्बर तक बढ़ाने का फैसला लिया गया था।

New Update –

गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत फ्री राशन मिलने की योजना 30 नंबर 2020 को समाप्त हो चुकी है। इस योजना को PM Garib Kalyan Yojana के अंतर्गत चलाया गया था। इससे देश के लगभग 80 करोड़ लोगों को मुफ्त में 5 किलो गेंहू व चावल और 1 किलो दाल दी गयी।

⇒जाने किसान पेंशन योजना ऑनलाइन आवेदन

पीएम गरीब कल्याण योजना राहत पैकेज की घोषणाएं –

PM Garib Kalyan Yojana के तहत जारी राहत पैकेज में मुख्य रूप से इन घोषणाओं का प्रावधान किया गया था –

1. नवम्बर 2020 तक फ्री राशन – इस राहत पैकेज की सबसे पहली घोषणा थी, नवम्बर 2020 तक 80 लाख करोड़ लोगों को मुफ्त में अनाज देना थी।

2. स्वास्थ्य कर्मियों को 50 लाख का बीमा – कोरोना महामारी से लड़ने वाली पूरी मेडिकल टीम को 50 लाख का जीवन बीमा दिया गया।इसमें सरकारी अस्पतालों के डॉक्टर, विशेषज्ञ, सफाई कर्मी, वार्ड बॉय, नर्स, ड्राइवर, आशा कार्यकर्ता, स्वास्थ्य सहायता कर्मी, टेक्नीशियन एवं अन्य सभी स्वास्थ्य कर्मियों को 50 लाख का बीमा कवर मुहैया करवाया जा रहा है। सभी स्वास्थ्य केंद्रों, वेलनेस सेंटरों और राज्यों के अस्पतालों को इस योजना में शामिल किया जायेगा। इस विशेष बीमा कवर लगभग 22 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को मिलेगा।

3. महिला जन धन खाता धारकों को 1500 रुपये – 500 रूपए की तीन किश्तों में सभी महिला जन धन खाता धारकों को मोदी सरकार द्वारा 1500 रूपये की मदद की गयी। इस घोषणा से लगभग 40 करोड़ महिलाओं को लाभ मिला है।

4. दिव्यांगों, विधवाओं और बुजुर्गों को 1000 रूपये की सहायता – सभी बुजुर्गों, विधवाओं और दिव्यांग लोगों को एक हजार की आर्थिक मदद गरीब कल्याण राहत पैकेज में की गयी थी।

5. उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को 3 महीने तक मुफ्त में सिलिंडर रिफिलिंग की सुविधा – सभी महिला उज्ज्वला योजना लाभार्थियों को फ्री में गैस सिलिंडर बांटे गए। इसमें 8 करोड़ गरीब परिवारों को शामिल किया जायेगा।

PM Garib Kalyan Yojana

6. 15 हजार से कम वेतन पाने वालों के PF अकाउंट में आर्थिक सहायता – जिन कंपनियों में कम से कम 100 कर्मचारी काम करते थे। वहां काम करने वाले सभी 15 हजार से कम वेतन पाने वाले लोगों के भविष्य निधि खाते में सरकार ने कंपनी और कर्मचारियों के शेयर में मदद की। और 75 प्रतिशत PF निकालने की व्यवस्था सुनिश्चित की। इस राहत पैकेज से तीन महीनो तक (जून तक) पीएफ अकाउंट में पारिश्रमिक का 24 प्रतिशत भुकतान किया गया।

7. PM किसान सम्मान निधि योजना की 5 वीं किश्त किसानों के खाते में भेजी गयी। इसका लाभ लगभग 7 करोड़ किसानों को मिला।

8. मनरेगा मजदूरों की दिहाड़ी बढाई गयी – प्रधानमंत्री गरीब कल्याण राहत पैकेज में मनरेगा मजदूरों की दैनिक मजदूरी को 182 रूपये से बढ़ाकर 202 रूपये किया गया। जिससे लगभग 62 करोड़ परिवार लाभान्वित हुए।

9. कोरोना पीड़ितों का फ्री इलाज – सभी कोरोना मरीजों का मुफ्त इलाज में इलाज किया जा रहा है।

10. स्वयं सहायता समूहों को सहायता – इस राहत पैकेज के तहत महिला स्वयं सहायता समूहों के लिए कोलेट्रल फ्री ऋणों की सीमा को बढाकर 20 लाख कर दिया गया है। इससे स्वयं सहायता धारक महिलाओं को मदद मिली है।

PM Garib Kalyan Yojana के राहत पैकेज की खास बातें 

  1. 80 करोड़ गरीब लोगों को मुफ्त में राशन मिला। जिसमे 5 किलो गेहूं या चावल और 1 किलो मनपसंद दाल शामिल थी। 
  2. covid 19 से लड़ने वाले सभी स्वास्थ्य कर्मियों को 50 लाख का विशेष बीमा कवर दिया जायेगा।
  3. प्रधानमंत्री किसान योजना के 8.7 करोड़ किसानों को 2000 रुपये की क़िस्त अप्रैल में दी गयी। 
  4. 20 करोड़ महिलाओं को 500 रुपये प्रतिमाह दिए गए। जिनका खाता प्रधानमंत्री जनधन योजना के अंतर्गत खुला था। 
  5. उज्ज्वला योजना से जुड़े गैस कनेक्शन वाले परिवारों को मुफ्त में गैस सिलिंडर मिला। 
  6. मनरेगा मजदूरों को मिलेगा लाभ। मनरेगा की मजदूरी बढ़ेगी।
  7. स्वयं सहायता समूहों को मिलेगा लाभ।
  8. 3 करोड़ वरिष्ठ, विधवा और दिव्यांग लोगों को 1000 रुपये मिलेंगे।
  9. भवन निर्माण श्रमिकों को सहायता देने के लिए राज्य सरकारें भवन और निर्माण श्रमिक कल्याण कोष से फण्ड रिलीज़ करेंगी।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना हेल्पलाइन नंबर

FAQ –

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की शुरुआत कब हुई?

पीएम गरीब कल्याण योजना की शुरुआत 2016 में हुई थी। यह योजना देश में इस समय भी चल रही है।

प्रधान मंत्री गरीब कल्याण योजना क्या है?

PM Garib Kalyan Yojana देश में गरीबी दूर करने के लिए शुरू की गयी है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ कैसे मिलेगा?

सरकारी आकड़ों के मुताबिक जिन परिवारों की मासिक आय 15 हजार रुपये से कम होगी, उन्हें गरीब कल्याण योजनाओं का लाभ मिलेगा

कौन सी कल्याण योजना सरकार ने शुरू की है?

मोदी सरकार ने गरीब कल्याण योजना शुरू की है।

 

अन्य पढ़ें  ————-

असीम पोर्टल – नौकरी खोजने की सरकारी वेबसाइट

 

 

Leave a Comment