प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना लिस्ट, आवेदन फॉर्म PDF, टोल फ्री नंबर देखें

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की लाभार्थी लिस्ट, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया व योजना से जुड़ी सभी मुख्य बातों को जानने के लिए आप इस लेख को पूरा पढ़ सकते हैं। आपको बतादें कि यह योजना भारत सरकार द्वारा साल 2017 से चलायी जा रही है, योजना का लाभ, पहले बच्चे को जन्म देने वाली महिलाओं को दिया जाता है। योजना में पंजीकरण होने के बाद सरकार द्वारा लाभार्थी महिलाओं को कुल 5000 रुपये, तीन किस्तों में दिए जाते हैं।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना –

PMMVY, केंद्र सरकार द्वारा वित्त पोषित स्कीम है, इसका कार्यान्वयन आंगनवाड़ी योजना के अंतर्गत महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा किया जाता है। मातृ वंदना योजना के अंतर्गत सभी पहली बार गर्भधारण करने वाली महिलाओं को तीन किस्तों में 5000 रुपये दिए जाते हैं। लाभ उठाने की इच्छुक महिलाओं को गर्भधारण के 150 दिनों के भीतर, आंगनवाड़ी केंद्र या सरकारी अस्पताल में पंजीकरण करवाना होता है।

इन तीन किश्तों में मिलते हैं लाभार्थी को पैसे –

पहली किस्त (प्रेगनेंसी के पंजीकरण के बाद) 1000 रुपये 
दूसरी किस्त (प्रेगनेंसी के 6 महीने बाद) 2000 रुपये 
तीसरी किस्त (बच्चे के जन्म के बाद) 2000 रुपये

ध्यान दें – प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की लाभार्थी महिलाओं का पंजीकरण अगर जननी सुरक्षा योजना में है तो ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को 1400 रुपये और शहरी क्षेत्र की महिलाओं को 1000 रुपये और मिलते हैं। यानी इन दोनों योजनाओं का लाभ पाने वाली महिलाओं को कुल 6 हजार रुपये की धनराशि मिल जाती है। 

इसे भी पढ़ें – प्रधानमंत्री आधार कार्ड लोन योजना

कैसे चेक करें प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की लाभार्थी लिस्ट –

pmmvy beneficiary status check online 2021 ऐसे करें चेक –
  • सबसे पहले pmmvy-cas.nic.in वेबसाइट खोलें
  • अब अपना पंजीकृत ईमेल, पासवर्ड और कैप्चा कोड भरें
  • Login बटन पर क्लिक करें
  • इतना करते ही आपके सामने लाभार्थी की सूची खुल जायेगी,
  • प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की लिस्ट में आयी हुई किस्तों की डिटेल चेक कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना लिस्ट चेक

नयी अपडेट – 

पीएम मोदी ने प्रयागराज में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए मातृ वंदना योजना के लाभार्थियों को योजना की किश्ते जारी की। अब तक इस योजना से प्रदेश की 2 करोड़ से अधिक महिलाओं को 10 करोड़ के लगभग धनराशि मिल चुकी है। 

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का आवेदन करने का तरीका –

  1. सबसे पहले मातृ वंदना योजना का रजिस्ट्रेशन फॉर्म (PMMVY form 1A) भरें और आवश्यकता दस्तावेजों के साथ अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र पर जाकर जमा करें।
  2. आवश्यक दस्तावेजों में प्रेगनेंसी प्रमाण, आधार कार्ड, मोबाइल नंबर, बैंक अकाउंट पासबुक, निवास प्रमाण, आय प्रमाण, जच्चा बच्चा सुरक्षा कार्ड (MCP Card) व मैरिज सर्टिफिकेट आदि की आवश्यकता पड़ सकती है।
  3. आंगनवाड़ी केंद्र पर रजिस्ट्रेशन करवाने पर आपको एक रसीद (पावती) मिलेगी, जिसका प्रयोग आगे चलकर होगा।
  4. पहली क़िस्त मिलने के बाद दूसरी व तीसरी क़िस्त पाने के लिए क्रमशः फॉर्म 1 B व 1 C जमा करना होगा
  5. तो इस प्रकार आप प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में आवेदन करके लाभ उठा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें – उड़ान योजना राजस्थान

pmmvy form pdf download –

योजना में पंजीकरण व पहली क़िस्त क्लेम के लिए –  pmmvy form 1-a pdf

दूसरी क़िस्त के समय (गर्भ के 6 महीने बाद) – pmmvy form 1-b download

तीसरी क़िस्त के लिए (जन्म होने के बाद) – pmmvy form 1-c

आपको बताना चाहूँगा, इन फॉर्म के आलावा आपको विशेष स्थिति में कुछ अन्य फॉर्म की आवश्यकता भी पड़ सकती है, जो आपको आंगनवाड़ी केंद्र पर फ्री में मिलेंगे, कोई शुल्क नहीं देना है, फॉर्म पाने के लिए।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का उद्देश्य –

इस योजना का उद्देश्य बच्चे को जन्म देने के बाद महिलाओं की वेतन हानि से बचाव और बच्चों के उचित पोषण के लिए आर्थिक सहायता सुनिश्चित करना है। जिससे गरीब परिवारों की आर्थिक तंगी के कारण जच्चा और बच्चा दोनों के स्वास्थ्य को कोई हानि न पहुंचे।

कौन है इस योजना का लाभ पाने का हक़दार –

  1. पहले बच्चे को जन्म देने वाली सभी प्रेगनेन्ट महिलाएं इस योजना का लाभ एक बार पाने की हक़दार हैं।
  2. जो महिलाएं राज्य या केंद्र की किसी भी सरकारी सर्विस में हैं वे इस योजना की पात्र नहीं हैं।
  3. ऐसी महिलाएं जिनकी पहली प्रेगनेंसी किसी कारण वश गर्भपात के कारण नष्ट हो जाती है वे भी इस योजना का लाभ अगले गर्भ धारण होने पर पात्र हैं।
  4. अगर योजना की पहली किश्त पाने के बाद गर्भपात हो जाता है तो उसे अगली दो किश्ते भी मिलेंगी।
  5. डिलीवरी के बच्चे की मृत्यु होने पर महिला को अगले गर्भ के दौरान योजना का लाभ नहीं मिलता।

कब आती है प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की पहली किस्त –

योजना में रजिस्ट्रेशन होने के बाद आपका फॉर्म अप्रूवल के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के पास जाता है। यदि सब कुछ सही रहा तो 30 दिनों के बाद लाभार्थी के बैंक खाते में पहली क़िस्त आ जाती है।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना टोल फ्री नंबर –

आप मातृ वंदना योजना से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए टोल फ्री नंबर 011-23382393 पर कॉल कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें – एक परिवार एक नौकरी योजना

Leave a Comment