पायें ग्रिड बिजली से छुटकारा, सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना से लगवाएं सोलर सिस्टम

बढ़ते बिजली संकट को दूर करने के लिये ऊर्जा मंत्रालय द्वारा सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना शुरू की गयी है। इस योजना के तहत जो भी अपने घर या व्यवसाय के लिए अपने छत पर सोलर सिस्टम लगवाना चाहते हैं, उन्हें सरकार द्वारा सब्सिडी प्रदान की जायेगी। आइये इस स्कीम की पूरी डिटेल जानते हैं –

सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना –

Solar Rooftop subsidy yojana के तहत देश का कोई भी पात्र नागरिक अपने घर की छत पर सोलर प्लेट लगवा सकता है। इसके लिए उन्हें किसी भी तरह का कोई शुल्क नही देना पड़ता। इस योजना के तहत आवेदक द्वारा सोलर सिस्टम लगवाने के कुल खर्ज पर सरकार द्वारा सब्सिडी पाने का भी प्रावधान है।

फ्री मे सोलर पैनल लगवाने के बाद उन्हें इस योजना के तहत फ्री मे बिजली मिलेगी। इस योजना का संचालन वैसे तो पूरे देश मे किया जायेगा परन्तु योजना में ग्रामीण इलाकों को प्राथमिकता दी गयी है।

ये भी पढ़ें – सौर स्वरोजगार योजना 2022, खेतों में सोलर प्लांट लगाकर कमायें पैसे

रूफटॉप सोलर सब्सिडी योजना की पात्रता –

सोलर पैनल को लगवाने के लिए कोई विशेष योग्यता नही है। परन्तु इस योजना के तहत जरूरतमंद लोग जिन्हें बिजली से जुडी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है, वो इस योजना का लाभ ले सकते हैं। 1 किलोवाट का सोलर पैनल लगाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा सब्सिडी दी जाएगी। सोलर पैनल लगाने से एक फायदा तो यह है की इसकी वजह से बिजली का खर्चा भी कम होगा।

सोलर रूफटॉप योजना के फायदे –

योजना के तहत जो भी अपने घर और कारखाने की छत पर सोलर रूफटॉप लगवाते है तो उसके कई फायदे है जो की इस प्रकार है –

  • इस योजना के तहत जो भी प्रार्थी सोलर पैनल लगवाता है तो उसको एक तो सबसे बड़ा फायदा यह है की इस योजना के तहत सरकार सब्सिडी भी देगी ताकि इस सोलर पैनल का खर्च उन पर ना पड़े।
  • इसके अलावा लाभार्थियों को बिजली बिल मे राहत रहेगी।
  • इसके अलावा पर्यावरण हितेषी बिजली का उत्पादन होगा।
  • बिजली का उत्पादन फ्री मे होगा और उसे घर या कारखाने मे कभी पर भी सप्लाई किया जा सकता है।
  • इस सोलर पैनल का 25 वर्षों तक इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • इस योजना का जो भी भुगतान होता है वो आगामी 5 से 6 साल मे पूरा हो जाएगा।

ये भी पढ़ें – कुसुम सोलर पंप योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2022

सोलर रूफटॉप योजना से जुड़े तथ्य –

  • इस योजना के तहत सोलर पैनल लगाने के लिए 1 किलोवाट के सोलर प्लांट लगाने के लिए 10 वर्ग फूट जगह की जरूरत होती है।
  • इसके अलावा सोलर पैनल की मदद से बिजली के उत्पादन करने से ग्रिड बिजली के उत्पादन मे 30 से 40 प्रतिशत की कमी होती है और इस वजह से बिजली का बिल भी कम आता है।
  • इस योजना के तहत सरकार द्वारा सब्सिडी भी दी जाती है।

सोलर रूफटॉप योजना के तहत दी जाने वाली सब्सिडी –

इस योजना का अगर कोई फायदा लेना चाहता है तो उसे इस तरह की सब्सिडी सरकार द्वारा दी जाती है –

  • अगर कोई 3 किलोवाट तक का सोलर प्लांट लगता है तो उस सोलर प्लांट लगाने पर लगभग 40 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जायेगी।
  • वही अगर कोई सोलर प्लांट 3 किलोवाट से 10 किलोवाट तक लगता है तो उसे सरकार द्वारा 10 प्रतिशत तक की सब्सिडी दी जायेगी।

ये भी पढ़ें – कृषि यंत्र अनुदान (Subsidy) योजना 2022

सोलर रूफटॉप योजना के लिए आवेदन कैसे करें –

सोलर रूफटॉप योजना के तहत आवेदन करने के लिए इस प्रोसेस को फॉलो कर सकते है –

  • Step 1 – इसके लिए सबसे पहले इस योजना की वेबसाइट पर आना होता है।
  • Step 2 – इस पेज पर आने के बाद इसमे आपको DISCOM के नाम का आप्शन मिल जाता है और उसमे Discom Portal के नाम से एक और आप्शन मिलता है उस पर क्लिक करने के बाद एक नए पेज पर पहुच जाते है।

इस पेज पर आने के बाद यहाँ सभी डिस्कॉम के लिंक मिल जाते है। उनमे से अपने से सम्बंधित डिस्कॉम पर आने के बाद वहा से ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

 

ये भी पढ़ें – सब्सिडी लोन स्कीम 2022: ये हैं वो योजनायें जो दिलाती हैं 60% तक सब्सिडी

Leave a Comment