ई श्रमिक कार्ड से पेंशन कैसे मिलती है? ज्यादातर को नहीं है पता

देश में ऐसी कई योजनायें सरकार द्वारा चलाई जा रही हैं जिनका लक्ष्य है आम जनता को आर्थिक लाभ और सामाजिक सुरक्षा देना। ई श्रम पोर्टल की शुरूआत भी इसी क्रम में असंगठित क्षेत्र के कामगारों का डेटाबेस तैयार करने के लिए किया है। कई राज्यों में तो ई श्रमिक कार्ड धारकों को प्रतिमाह कुछ पैसे भी सरकार द्वारा भेजे गए हैं। आइये जानते हैं कि क्या ई श्रमिक कार्ड से पेंशन मिलती है, अगर हाँ तो इसके लिए आपको क्या करना होगा –

ई श्रमिक कार्ड से पेंशन कैसे मिलती है?

अगर आपने अपना ई श्रम कार्ड बनवा लिया है तो ई श्रम कार्ड धारकों के लिए सरकार एक पेंशन योजना चलती है जिसमें महीने के तीन हजार, साल के 36000 रुपये की पेंशन पा सकते हैं। ई-श्रमिक कार्ड से पेंशन की इस स्कीम का असली नाम प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन योजना है। इसका लाभ देश के सभी असंगठित क्षेत्र जरूरतमंद मजदूर और छोटे व्यापारी ले सकते हैं।

ई श्रमिक कार्ड से पेंशन

इसे पढ़ें – ई श्रमिक कार्ड के ये फायदे नहीं जानते? तो कार्ड बनवाना है बेकार

ई-श्रमिक कार्ड से पेंशन स्कीम, एक केंद्र सरकार की योजना है। इस ई-श्रमिक कार्ड के सभी धारकों के पास पेंशन स्कीम में आवेदन करने का मौका होता है। जिसके तहत आवेदकों को हर माह 3 हजार की पेंशन सहायता दी जाती है।

किन लोगों को मिलेगा ई श्रमिक कार्ड से पेंशन का लाभ –

  • असंगठित क्षेत्र या इससे जुड़े मजदूर,
  • रिक्शा वाले,
  • रेहड़ी पट्टी वाले,
  • निर्माण कार्य करने वाले,
  • मछुवारे,
  • नौकर, आदि जिनका कोई PF अकाउंट नही है।

ई श्रमिक कार्ड से पेंशन के लिए आवेदन कैसे करें –

  1. सबसे पहले इस योजना से जुडी आधिकारिक वेबसाइट पर आयें
  2. अब वेबसाइट के आप्शन Click here to apply online पर क्लिक करना है
  3. अब Self Enrollment या CSC वाले आप्शन का चुनाव करना है, इसके बाद आपके सामने एक Popup box खुल जाएगा।
  4. PopUp बॉक्स मे आपको अपना मोबाइल नंबर डालकर ओटीपी द्वारा वेरीफाई करना है
  5. इसके बाद इसमे आपको एक फॉर्म मिलेगा, उस फॉर्म मे आपको अपनी डिटेल भरनी होती है और उसके बाद उस फॉर्म को सबमिट करना होता है
  6. पूरा आवेदन होने के बाद एक पंजीकरण फॉर्म प्रिंट करके signature करके पेमेंट करलेना है
  7. इसके बाद आपको प्रधान मंत्री श्रम योगी मानधन स्कीम का एक कार्ड मिल जाएगा

इसे पढ़ें – श्रमिक कार्ड में कितने पैसे आ रहे हैं? जाने नयी अपडेट

श्रमयोगी मानधन योजना की मुख्य बातें –

  • जो भी आवेदक इसमे आवेदन करता है तो उसके बाद जैसे ही उसकी आयु 60 साल की हो जाती है तो उसके इस योजना के तहत हर माह 3 हजार की पेंशन दी जाती है।
  • इतना ही नही अगर किसी लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है तो उसके आश्रितों को इस योजना के तहत हर माह 15 हजार रूपये की आर्थिक पेंशन दी जायेगी।
  • कोई भी आवेदक इसमे अपने पैसे किश्त और निवेश के तौर पर जमा करवाएगा तो उतना ही पैसा सरकार भी उसके खाते मे जमा करवाएगी।
  • इसके अलावा आवेदक को इस योजना मे जैसे ही उसकी आयु 55 साल हो जाते हुई तो उसे इसमे 200 रूपये जमा करवाने होते है।

श्रमिक कार्ड मानधन पेंशन योजना की योग्यता –

  • भारत का नागरिक आवेदक एक कामगार श्रमिक होना जरुरी है।
  • आवेदक करने वाले मजदूर की आय कम से कम मासिक 15 हजार होनी चाहिए।
  • लाभ लेने वाले आवेदक की आयु 18 से 40 साल के मध्य होनी चाहिए।
  • इसके अलावा आवेदक कर दाता और Tax Payer नहीं होना चाहिए।
  • अगर कोई प्रार्थी EPFO और ESIC का लाभ ले रहा है तो वो इस योजना का लाभ लेने मे सक्षम नही होगा।
  • आवेदक के पास आधार कार्ड होना चाहिए और उस आधार कार्ड मे मोबाइल नंबर लिंक होना चाहिए।
  • इसके अलावा आवेदक का एक सेविंग खाता होना चाहिए।

इसे पढ़ें – डिजिटल स्वास्थ्य हेल्थ कार्ड कैसे बनेगा? जाने

PMSYM योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज –

इस योजना के लाभ लेने वाले आवेदक को ऑनलाइन आवेदन करना पड़ता है। आवेदन की प्रक्रिया में इन दस्तावेजों की आवश्यकता होती है –

  • आवेदक का आधार कार्ड,
  • आवेदन करने के वाले प्रार्थी का पहचान पत्र
  • सेविंग बैंक खाते की पासबुक
  • मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी (ईमेल आईडी यदि हो तो)
  • आवेदक का पासपोर्ट साइज़ फोटो, आदि।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के तहत मिलेगी पेंशन –

श्रम मानधन योजना के तहत ई-श्रमिक कार्ड के माध्यम से हर माह 3 हजार की पेंशन यानी एक साल की 36 हजार की पेंशन दी जायेगी। ई-श्रमिक कार्ड मे आवेदन करने वाले आवेदकों की उम्र 60 हजार से ऊपर हो जाती है तो उसके बाद आवेदकों को इस योजना के तहत पेंशन दी जाती है।

पेंशन की राशि हर माह आवेदक के बैंक खाते मे भेज दी जाती है। इसके लिए लोगो को कही फिरने की जरूरत नही है। केवल एक बार ई-श्रमिक कार्ड कार्ड बनवाने के बाद ही आवेदक को लाभ दिया जाता है।

अगर किसी आवेदक की उम्र 18 से 40 साल के मध्य है तो उस स्तिथि मे आवेदक को इसमे आवेदन करना होता है और हर माह 55 रूपये इसमे जमा करवाने होते है, इसके बाद आप जैसे ही 40 साल के हो जाते है तो ऐसे मे आवेदक को हर माह 250 रूपये इसमे जमा करवाने होते है। 40 से 60 साल के होने तक इस योजना के तहत पैसे जमा करवाने होते है उसके बाद जैसे ही आवेदक की उम्र 60 साल हो जाती है तो उसके बाद आवेदक को हर माह 3000 की मासिक पेंशन दी जाती है।

उम्मीद है आपको हमारे इस लेख मे बताई गई श्रमिक कार्ड से पेंशन कैसे मिलती है के बारे मे जानकारी अच्छी लगी होगी।

 

इसे पढ़ें – मनरेगा की मजदूरी कितनी है? MGNREGA रेट लिस्ट 2022

Leave a Comment