Startup India Seed Fund Yojana 2021 | New Startup Loan Eligibility Details

Startup India Seed Fund Scheme in Hindi | Eligibility Details for New Startups under Statup india seed fund scheme

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने देश में इनोवेशन और टेक्नोलॉजी से जुड़े नए स्टार्टअप्स को बढ़ावा देने के लिए 21 जनवरी 2021 को स्टार्टअप इंडिया सीड फण्ड स्कीम शुरू की है। हालाँकि कि देश में स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए मुद्रा लोन जैसी योजनाएं पहले से उपलब्ध हैं। आइये इस लेख में जानते हैं कि उद्योग संवर्धन और आतंरिक व्यापार विभाग की ओर से जारी इस नयी पहल की क्या खास बातें हैं –

Startup India Seed Fund Scheme 2021

दोस्तों आपको बता दें कि स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के तहत मोदी सरकार ने 1000 करोड़ रुपये खर्च करने का प्लान तैयार किया है। सबसे पहले इस स्कीम को देश में साल 2021 से 2025 तक मिशन मोड में चलाया जायेगा। उसके बाद आंये नतीजों के आधार पर आगे की रणनीति तैयार की जाएगी।

स्टार्टअप इंडिया सीड फण्ड योजना अपने नाम के अनुसार युवाओं की इनोवेटिव सोंच का सम्मान करते हुए, उसे टेक्नोलॉजी और आवश्यक संसाधनों के लिए बेहिचक आर्थिक सहायता प्रदान करने का काम करेगी। जिससे उन्हें अपनी क्षमताओं को साबित करने का मौका मिलेगा।

मोदी सरकार की यह योजना स्टार्टअप इंडिया मिशन के तहत नए उद्यमियों को उचित संसाधनों की उपलब्धता, उद्यमिता परामर्श और परीक्षण सुविधाएं सुनिश्चित करवाने के लिए शुरू की गयी है। जिससे देश में आत्मनिर्भर अभियान को बल मिलेगा।

स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना का उद्देश्य

Startup India Seed Fund Yojana का उद्देश्य देश में एडवांस टेक्नोलॉजी वाले नए एंटरप्राइजेज और इनोवेशन के लिए आधारभूत सुविधाएँ, परीक्षण सुविधाएं और मेंटरशिप आदि प्रदान करवाना है। साथ ही युवाओं में स्टार्टअप के लिए आर्थिक मदद पाने का आत्मविश्वास पैदा करवाना है।

Startup India Seed Fund Scheme (SISFS) aims to provide financial assistance to startups for proof of concept, prototype development, product trials, market entry and commercialization. This would enable these startups to graduate to a level where they will be able to raise investments from angel investors or venture
capitalists, or seek loans from commercial banks or financial institutions.

Startup India Seed Fund Yojana की खास बातें –

यह योजना 1 अप्रैल 2025 तक लागू रहेगी। इस दौरान केंद्र सरकार नए टेक्नोलॉजी और इनोवेशन से जुड़े उद्यमों को बढ़ावा देने के लिए 945 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। स्टार्टअप इंडिया सीड फंड योजना के अंतर्गत अच्छी बिजनेस आईडियाज होने पर 20 लाख रुपये तक के स्टार्टअप को प्रदान करेगी। साथ ही व्यवसायीकरण से जुड़े उपकरणों के लिए 50 लाख तक का लाभ भी उठाया जा सकता है।

Startup India Seed Fund Scheme Eligibility Details

उद्योग संवर्धन और आतंरिक व्यापार विभाग की ओर से नए Startups और Incubators के लिए आवेदन सम्बन्धी कुछ विशेष पात्रता विवरण जारी किये गए हैं –

Eligibility Criteria for Startups

  • स्टार्टअप, DPIIT के द्वारा मान्यता प्राप्त होना चाहिए।
  • बिजनेस की स्थापना को 2 वर्ष से अधिक नहीं होना चाहिए।
  • Startup भारतीय बाजारों के अनुसार फिट और कोई विशेष प्रोडक्ट या सेवा देने वाला होना चाहिए।
  • उद्यम टेक्नोलॉजी का उपयोग करने वाला होना चाहिए। साथ ही उसका बिजनेस और वितरण मोडल पूर्व निर्धारित और विनियमित होना चाहिए।
  • स्टार्टअप इंडिया सीड फण्ड योजना के अंतर्गत सामाजिक प्रभाव, अपशिष्ट प्रबंधन, जल प्रबंधन, वित्तीय समावेशन, शिक्षा, कृषि, खाद्य प्रसंस्करण, जैव प्रौद्योगिकी, स्वास्थ्य सेवा, ऊर्जा, गतिशीलता, रक्षा, अंतरिक्ष, रेलवे, तेल और गैस, वस्त्र, आदि जैसे क्षेत्रों से जुड़े उद्यम शामिल किये गए हैं।
  • किसी अन्य योजना के तहत पहले से ही लोन पाने वाले स्टार्टअप को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।
  • कंपनी के अधिनियम, 2013 और SEBI (ICDR) विनियम, 2018 के अनुसार स्कीम लाभ पाने के लिए भारतीय इनक्यूबेटर के साथ स्टार्टअप में हिस्सेदारी कम से कम 51% होनी चाहिए।

Eligibility Criteria for Incubators

  • इनक्यूबेटर्स को स्टार्टअप इंडिया फण्ड स्कीम से जुड़ने के लिए Societies Registration Act 1860, Indian Trusts Act 1882, Companies Act 1956, Companies Act 2013 में से किसी एक अधिनियम के तहत पंजीकृत होना चाहिए।
  • आवेदक इनक्यूबेटर बिजनेस कम से कम 2 वर्ष या उससे अधिक समय से चालू होना चाहिए।
  • इनक्यूबेटर्स में कम से कम 25 व्यक्तियों को बैठने की सुविधा होनी चाहिए।
  • Incubators के पास आवेदन के समय कम से कम 5 स्टार्टअप जुड़े होने चाहिए।
  • इनक्यूबेटर्स के पास full-time Chief Executive Office, experienced in business development and entrepreneurship capable और responsible team होनी चाहिए।
  • इनक्यूबेटर को केंद्र या राज्य सरकार द्वारा सहायता प्रदान की जानी चाहिए।

Startup India Seed Fund Scheme की ऑफिसियल गाइड लाइन pdf देखने के लिए यहाँ क्लिक करें .

⇓ आपके लिए स्पेशल ⇓

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना लोन के लिए आवेदन करें 

कुसुम सोलर पम्प योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 

जाने किसान बिल क्या है PDF Download in Hindi 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *