उड़ान योजना राजस्थान, बालिकाओं और महिलाओं को मिलेगा ये फायदा

राजस्थान सरकार ने 20 दिसंबर को महिलाओं व बालिकाओं की सुरक्षा से जुड़ी एक नई योजना लांच की है। राज्य में मौजूदा सरकार के तीन साल पूरे होने के अवसर पर आयोजित एक विशेष कार्यक्रम के दौरान इस योजना की जानकारी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा दी गयी। तो आइये उड़ान योजना राजस्थान की विशेषताओं और कार्य योजना के बारे में विस्तार से जानते हैं –

उड़ान योजना राजस्थान –

राजस्थान में उड़ान योजना, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा चलायी गयी है। इस योजना के तहत 10 वर्ष से 45 वर्ष की आयु वाली सभी बालिकाओं व महिलाओं को मुफ्त में सेनेटरी नैपकिन दिया जाएगा। योजना का शुभारम्भ 20 दिसंबर 2021 को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा किया गया था।

उड़ान योजना राजस्थान

योजना का नाम उड़ान योजना 
कब से शुरू  20 दिसंबर 2021
उद्देश्य किशोरियों व बालिकाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करना 
किसने शुरू किया  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत 
सम्बंधित मंत्रालय महिला एवं बाल विकास विभाग
आधिकारिक पोर्टल wcd.rajasthan.gov.in

इसे भी पढ़ें 👉 इंदिरा गाँधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना – ऐसे करें आवेदन

राजस्थान में उड़ान योजना शुरू होने से क्या होगा फायदा –

  • राज्य की सभी किशोरियों व महिलाओं को सैनिटरी नैपकिन निःशुल्क मिलेगा।
  • मासिक धर्म के कारण होने वाली समस्याओं व विभिन्न बीमारियों से सुरक्षा सुनिश्चित होगी।
  • राज्य के विकास में महिलाओं का योगदान बढ़ेगा।
  • बालिकाओं की शिक्षा व सामाजिक सुरक्षा बेहतर होगी।
  • माहवारी से जुड़ी सामाजिक भ्रांतियां या लोगों में हिचकिचाहट दूर होगी।

योजना मुख्य बातें –

  • उड़ान योजना में 10 से 45 वर्ष की महिलाओं या बालिकाओं को शामिल किया जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत सेनेटरी नैपकिन का वितरण पूर्णतयः निःशुल्क होगा।
  • उड़ान योजना के शुरुआती चरण में लगभग 30 लाख महिलाओं व बालिकाओं को सेनेटरी नैपकिन वितरण किया जाएगा, जिसके लिए सरकार ने 200 करोड़ का बजट तय किया है।
  • लगभग 1 करोड़ 20 लाख महिलाओं और बालिकाओं को योजना का लाभ मिलेगा
  • योजना की कार्य योजना का प्रभावी बनाने के लिए जनप्रतिनिधि, स्वयंसेवी संस्थाएं, सामाजिक कार्यकर्ता, एनजीओ आदि को शामिल किया जाएगा।
  • उड़ान योजना क्रियान्वन व संचालन इंदिरा महिला शक्ति निधि से किया जाएगा।
  • राजस्थान, सेनेटरी नैपकिन वितरण से जुड़ी इस योजना को शुरू करने वाला पहला राज्य बन गया है।
  • इस योजना में ग्रामीण क्षेत्रों को बड़े स्तर पर शामिल किया जाएगा।
  • मंत्रालय द्वारा लगभग 2 लाख मानदेय कर्मचारियों की मदद से योजना को स्कूल, कॉलेजों तक पहुँचाया जायेगा।

इसे भी पढ़ें 👉 ग्राम पंचायत राशन कार्ड सूची राजस्थान खोजें 

क्यों है जरुरी उड़ान योजना राजस्थान –

वैसे तो सामाजिक विकास व शिक्षा के बढ़ते स्तर के साथ समाज में महिलाओं के मासिकधर्म जैसे मुद्दों के प्रति जागरूकता बढ़ रही है। लेकिन राज्य सरकार द्वारा और तेजी लाने की आवश्यकता को देखते हुए उड़ान योजना को चलाया गया है। महिला एवं बाल विकास विभाग की रिपोर्ट के अनुसार आज भी लोगों में सेनेटरी नैपकिन के प्रति हिचकिचाहट रहती है, ऐसे में 65 फीसदी महिलाओं कई बीमारियों का कारण स्वच्छता की कमी पाया जाता है।

official portal – wcd.rajasthan.gov.in

इसे भी पढ़ें 👉 खसरा नंबर से जमीन (खेत) का नक्शा राजस्थान कैसे देखें?

Leave a Comment